रुपहले पर्दे पर छाने लगी है पद्माजा की आभा
अनूप नारायण सिंह
कहते हैं कि दिल में अगर कुछ कर गुजरने की तमन्ना होती तमाम विपदाओं के बावजूद इंसान अपनी मंजिल को प्राप्त कर ही लेता है खासकर रूपहले पर्दे पर इल्म की दौलत के बदौलत ही कोई कलाकार काम  प्राप्त करता है।अंकुश भट्ट की फिल्म भिंडी बाजार से रुपहले पर्दे पर पदार्पण करने वाली पद्मजा आज की तारीख में बॉलीवुड की कई बड़े बजट की फिल्मों में नजर आने वाली हैं चिक शैंपू के विज्ञापन फिल्म से पद्मजा की अभिनय क्षमता को निर्माता-निर्देशको मैं नोटिस किया। राजेश सिंह के चर्चित प्ले रामलीला में सीता का रोल प्ले कर चुकी पद्मजा चक्कलसपुर फिल्म से फिल्म समीक्षकों की पसंदीदा अभिनेत्री बनी राष्ट्रीय स्तर पर उनके अभिनय को ना सिर्फ सराहा गया बल्कि बॉलीवुड की एक बेहतरीन अदाकारा का भी खिताब मिला। स्टोरी को स्टार से ज्यादा प्राथमिकता देने वाली यह अभिनेत्री कहती हैं की सब्जेक्ट अगर पसंद हो तो इन्हे किसी भी   फिल्मों में काम करने में कोई परेशानी नहीं 

Post A Comment: