ब्यूरो रिपोर्ट मुजफ्फरपुर:-  
उत्तर बिहार समेत कई जिलों में तेज आंधी-पानी के साथ जमकर ओले बरसे। शुक्रवार की सुबह अचानक मौसम के रुख में बदलाव हुआ। इस सीजन की यह पहली ओलावृष्टि है। तेज आंधी और ओलावृष्टि से आम-लीची के साथ-साथ कई अन्य फसलों को भारी नुकसान हुआ है। गेहूं और दलहन की फसल पर इसका सीधा असर देखा जा रहा है। उत्तर बिहार के सीतामढ़ी, दरभंगा, पूर्वी व पश्चिमी चंपारण, मधुबनी के कई हिस्सों में आंधी-पानी के साथ जमकर ओलावृष्टि हुई है। तापमान में गिरावट भी दर्ज की गयी. हालांकि, दिन के 12 बजे तक फिर धूप निकल आयी. तेज आंधी, बारिश और ओलावृष्टि का असर सीतामढ़ी और मोतिहारी के चिरैया के अकौना, खोढा, महुआवा, लालबेगिया सहित अन्य गांवों में भी देखने को मिला,
वही कई जिलों में किसानों ने बताया कि आंधी और ओलावृष्टि के कारण जहां किसानों के घर का छप्पड़, पुआल, भूसी आदि उड़ गये. वहीं, जेठुवा, आम, कटहल, महुआ आदि फल पूरी तरह बर्बाद हो गया. प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया कि किसानों की क्षति का आकलन किया जायेगा तथा इसकी रिपोर्ट जिला भेजी जायेगी!

Post A Comment: