कमिश्नर ने मांगा गोरखपुर के सीएमओ से स्पष्टीकरण
मुख्य सचिव के आगमन के मद्देनजर तैयारी बैठक के दौरान दवाओं की उपलब्धता के बारे में सही रिपोर्ट न देने पर  मंडलायुक्त ने दिया निर्देश
       विनय कुमार मिश्र
      गोरखपुर। मण्डलायुक्त अनिल कुमार ने आयुक्त सभागार में मुख्य सचिव के आगमन के मद्देनजर तैयारी बैठक के दौरान दवाओं की उपलब्धता के बारे में सही रिपोर्ट न देने पर मुख्य चिकित्साधिकारी गोरखपुर को स्पष्टीकरण देने का निर्देश दिया है। उन्होंने बिन्दुवार समीक्षा करते हुए जानकारी ली तो बताया गया कि स्वास्थ्य विभाग में अपेक्षित प्रगति नही है। कुशीनगर जनपद में भी गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण अपेक्षानुरूप नही है। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी सूचनाएं सही ढंग से दें।
    मण्डलायुक्त ने पंचायती राज, जलनिगम, पशुपालन, स्वास्थ्य एंव परिवार कल्याण, बीएसए को निर्देश दिया कि दस्तक अभियान के दृष्टिगत अपनी कार्ययोजना प्रस्तुत करें और उसके अनुसार कार्यवाही भी सुनिश्चित करें। इसमें किसी प्रकार की शिथिलता नही होनी चाहिए।मण्डलायुक्त ने चिकित्सा क्षेत्र मे अधूरे निर्माण कार्यों की समीक्षा के दौरान पाया कि 5 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के सापेक्ष 3 पूरे हो गये है।  अपर निदेशक स्वास्थ्य को निर्देश दिया कि विगत एक वर्ष में कितनी प्रगति हुई इसकी विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत करें। उन्होंने 14वें वित्त तथा राज्य वित्त की समीक्षा के दौरान पाया कि महराजगंज की प्रगति अच्छी नही है। इस संबंध में उप निदेशक पंचायती राज द्वारा बताया गया कि महराजगंज जनपद तेजी से प्रगति कर रहा है। उन्होंने राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल मिशन, छात्रवृत्ति, विधवा पेंशन, विकलांग पेंशन, विधुत आपूर्ति, नई सड़कों के निर्माण, गन्ना मूल्य का भुगतान, गांव का उर्जीकरण, अमृत योजना, सालिड वेस्ट मैनेजमेन्ट, नगरीय स्ट्रीट लाइट की स्थापना, छात्रों का नामांकन, स्कूल चलों अभियान की तैयारियों आदि की गहन समीक्षा की।इस अवसर पर संयुक्त विकास आयुक्त मदन वर्मा, उप निदेशक अर्थ एंव संख्या ए.ए अंसारी सहित विभिन्न विभागों के मण्डलीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Post A Comment: