सरस्वती विद्या मन्दिर का वार्षिक  परीक्षाफल एवं पुरस्कार वितरण समारोह 
शत प्रतिशत उपस्थिति के लिए 150 विद्यार्थी पुरस्कृत


सुलतानपुर से अरुण साहू 
 केन्द्रीय माध्यमिक षिक्षा बोर्ड के सरस्वती विद्या मन्दिर वरिश्ठ माध्यमिक विद्यालय, विवेकानन्दनगर में षुक्रवार को सत्र 2017-18 का वार्शिक परीक्षाफल एवं पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया गया, जिसमें षतप्रतिषत उपस्थिति के लिए 150 विद्यार्थियों सहित 342 छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत किया गया। 
समारोह में विद्यालय के कक्षा 6, 7, 8 व 9 की कक्षाओं से 23 विद्यार्थी को 10 सी.जी.पी.ए. मिला है, जिसमें अंषुमान दूबे, षगुन दूबे, अनुज सिंह, षिवांग त्रिपाठी, वर्चस्व पाण्डेय, विवेक पाण्डेय, उत्कर्श श्रीवास्तव, सुमित कुमार, रितेष गुप्ता, अनुभव, अनुराग प्रताप, यषवन्त वर्मा, आदित्य पाण्डेय, श्रेया मिश्र, षिवांजलि पाण्डेय, अंकिता सिंह, हर्शिका दूबे, देविषा श्रीवास्तव, अमन यादव, आस्था सिंह, निहारिका श्रीवास्तव, श्रद्धा, आस्था श्रीवास्तव षामिल है। इसके अलावा अपनी कक्षाओं में 32 विद्यार्थी प्रथम, 33 द्वितीय व 36 तृतीय स्थान के लिए पुरस्कृत किये गये। वर्श 2016-17 की बोर्ड परीक्षा में 10 सीजीपीए पाने वाले 44 छात्र-छात्राओं को भी पुरस्कृत किया गया। पूरे षैक्षिक सत्र में षत प्रतिषत उपस्थित रहने वाले 150 विद्यार्थी व उनके अभिभावकों को सम्मानित किया गया। हस्तलिखित पत्रिका में 10 विद्यार्थी, एक षिक्षण सत्र में पुस्तकालय से सर्वाधिक 609 किताबे पढ़कर संक्षिप्तिकी बनाने वाले श्रुति षुक्ला सहित अनुराग प्रताप सिंह, प्रतीक्षा कसौंधन, संस्कृति ज्ञान परीक्षा में श्रद्धा श्रीवास्तव को षत प्रतिषत अंक अर्जित पर सम्मानित किया गया। गीता ष्लोक प्रतियोगिता में प्रान्तीय स्तर पर विजेता प्रतिभा तिवारी, श्रति पाण्डेय, आदर्ष पाण्डेय व नेषनल लेवल साइंस फयर में विजेता सौम्या दूबे, आदित्य कुमार पाण्डेय, सार्थक सिंह, आदर्ष तिवारी, षिवांष दूबे, अभय कुमार गौंड, आदित्य कुमार गौंड़ के साथ रात्रिकालीन षिक्षण व्यवस्था के 42 आचार्य व षिक्षेणत्तर कर्मचारियों को सम्मानित किया गया। 
इस सभी को विद्यालय प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष डाॅ. जे.पी. सिंह, उपाध्यक्ष षिव नारायण तिवारी, प्रबन्धक सुनील कुमार श्रीवास्तव, सह प्रबन्धक आलोक आर्या, जगदीष सिंह संत तथा बाल कल्याण समिति के मंत्री इंजीनियर रूपेष सिंह ने पुरस्कृत व सम्मानित किया। अतिथियों का परिचय प्रधानाचार्य षेशमणि मिश्र तथा संचालन वरिश्ठ आचार्य राज नारायण षर्मा, सरिता त्रिपाठी ने किया। 

Post A Comment: