गोंडा।मनकापुर क्षेत्र में झोलाछाप डॉक्टर कुकुरमुत्ते की तरह फैले हुए है। ,ये  डॉक्टर जो बिना किसी डिग्री व शासन के रजिस्ट्रेशन के ही गरीब जनता के साथ डॉक्टरी करते है।सी एच सी के सामने ही मॉडर्न  मॉडर्न  डायग्नोस्टिक  एंड  अल्ट्रासाउंड  पैथोलॉजी सेंटर  बिना प्रशिक्षित  डॉक्टर के  झोलाछाप डॉक्टर कर रहा है अल्ट्रासाउंड खुलेआम उड़ा रहा है  कानून की धज्जियां वहीं जिम्मेदार विभाग की कार्यवाही न होने से आये दिन इन झोलाछापों डॉक्टरों  के हौसले बुलंद है 

।विकास खंड मनकापुर के अंतर्गत झिलाही बाजार,मछली बाजार,खरिका, मल्हीपुर,घुनाही,बल्लीपुर,निर्मल नगर चौराहा,चांदपुर लखपतराय ,गडरही,अमवा,गोहन्ना बाजार,जगदीशपुर आदि क्षेत्रों में झोलाछाप डॉक्टरों की मानो बाढ़ सी आ गयी है।
फर्जी डॉक्टर्स जो बगैर पढ़े-लिखे, बगैर डिग्रीधारक बगैर किसी प्रकार की ट्रेनिंग लिए समाज में धड़ल्ले के साथ अपनी अपनी प्रेक्टिस का जोर आजमाइश करने में लगे हुए हैं क्योंकि सीजन आने वाला है सीजन से आने के पूर्व अपनी तैयारी में जुटे हुए हैं ताकि सीजन पर भेड़ की तरह ऊन कतरने का मौका स्वतंत्र रूप से मिल सकेगा। इन झोलाछाप डॉक्टरों पर किसी प्रकार का प्रशासनिक अंकुश नहीं है और यह वेखौफ चिकित्सा का कार्य एलोपैथिक, आयुर्वेदिक सहित न जाने कितनी प्रकार के अंतर्गत इलाज का काम सुचारू रूप से  मोटरसाइकिल पर बेग टांगकर और अपनी डिस्पेंसरी खोलकर करने में महारत हासिल किए हुए हैं। इतना ही नहीं यह हाल पशुधन का भी है क्षेत्र में पशु      विभाग के भी लगभग एक दर्जन कथित डॉक्टर अपनी अपनी प्रेक्टिस करने में लगे हुए हैं जिनसे दर्जनों पशु अज्ञानतावश बेमौत काल के गाल में समाहित हो जाते हैं। एक मोटे अनुमान के अनुसार डॉक्टरों की संख्या सैकड़ों बताए जाते हैं जिसमें क्षेत्रवासियों  का मानना है कि जो हल्दी मिर्ची धनियां दुकान पर बेचते हैं वह भी अच्छी खासी प्रेक्टिस कर मोटी रकम कमा कर रहे हैं। यह कथित डॉक्टरों के इलाज से तमाम जवान, बेजुबान काल के मुँह में समा जाते हैं या भयंकर किसी बीमारी से पीड़ित होकर मरणसन्न हालत में जिला से बाहर दाखिल कराए जाते हैं।ये झोला छाप डॉक्टर अपने आपको सर्जन से कम नही समझते ,भगन्दर ,बवासीर का ऑपरेशन चुटकी में करने का करते है दावा !,
और किसी से नही डरते , चाहे कानून हो या कोई और ,
बडा बवाल। यह कि  आखिर कब तक ये डॉक्टर गॉंव के गरीब जनता का मच्छरों की तरह खून चूंसते रहेंगे।क्या भविष्य मे लगेगी इन पर लगाम।क्या स्वास्थ्य विभाग कुंभकर्णी नींद से जागेगा? यह एक बहुत बड़ा सवाल बनकर रह गया है।

अधीक्षक के बोल
वहीं पर जब सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनकापुर के प्रभारी मैनुद्दीन चिश्ती से झोलाछाप डॉक्टरों के बारे में बात की गई तो बताया किस समय समय पर अभियान चलाकर कार्रवाई की जाती है जब उर्से सी एच सी के सामने चल रहे मॉडर्न डायग्नोस्टिक अल्ट्रासाउंड  पैथोलॉजी  सेंटर के बारे में पूछा गया तो बताया के उच्च अधिकारी को इस बारे में अवगत कराएंगे |

Post A Comment: