सुलतानपुर से अरुण साहू 
 जिलाधिकारी संगीता सिंह ने अपने शीतकालीन भ्रमण के दौरान आज जनपद के दोस्तपुर ब्लाक अन्तर्गत पलिया गोलपुर में
चौपाल लगाकर विकास एवं राजस्व कार्यों का स्थलीय सत्यापन किया। उन्होंने सत्यापन में पाया कि यहां पर विकास के सभी कार्यक्रम सही ढ़ंग से क्रियान्वित  किये गये हैं तथा पात्रों को लाभ मिला है। इस ग्राम के प्रधान के नेतृत्व में ग्रामवासियों ने विकास के नये आयाम प्रस्तुत किये हैं। 
जिलाधिकारी ने कहा कि जिस प्रकार इस गांव में विकास कार्यक्रमों का क्रियान्वयन हुआ है, यदि ग्रामवासी संकल्प लें कि तो यह गांव आगामी ंतीन माह में खुले में शौच से मुक्त घोषित हो सकता है। उन्होंने कहा कि ओ.डी.एफ. घोषित होने के पश्चात् वह पुनः इस गांव का भ्रमण कर ग्रामीणों को सम्मानित करेंगी। इस अवसर पर उन्होंने स्वतः से प्रेरित होकर स्वच्छ शौचालय का निर्माण करने वाले 13 लागों का ग्रामीणों से ताली बजवाकर सम्मान दिलाया। 
जिलाधिकारी ने चैपाल कार्यक्रम में विकास कार्यों की समीक्षा में पाया कि इस गांव में 18 घण्टे विद्युत की आपूर्ति हो रही है तथा गांव सम्पर्क मार्ग से जुड़ा है। इस गांव में 07 लोगों को प्रधानमंत्री आवास (ग्रामीण) दिया गया है तथा सभी के आवास पूर्ण हो चुके हैं। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने प्रधानमंत्री आवास योजना के सभी 07 लाभार्थियों को प्रमाणपत्र तथा शौचालय निर्माण का स्वीकृत पत्र प्रदान किया। इस गांव में 04 लोगों को अन्त्योदय तथा 414 लोगों को पात्र गृहस्थी का राशन कार्ड जारी किया गया है। सभी कार्ड धारकों को समय से व निर्धारित मूल्य पर खाद्यान्न व मिट्टी का तेल मिल रहा है। इस गांव में 50 हैण्डपम्प लगे हैं तथा सभी चालू हालत में हैं। इस गांव में एक प्राथमिक विद्यालय तथा एक उच्च प्राथमिक विद्यालय संचालित है, सभी बच्चों को ड्रेस, स्वेटर, जूता मोजा का वितरण हुआ है तथा मीनू के अनुसार मध्यान्न भोजन बन रहा है। जिलाधिकारी ने विद्यालय के छात्र/छात्राओं से एम.डी.एम. तथा ड्रेस वितरण के बारे में जानकारी भी ली। इस गांव में वृद्धापेंशन के 29, निराश्रित महिला पेंशन के 03 तथा दिव्यांग पेंशन के 09 लाभार्थी हैं, जिन्हें पेंशन मिल रही है। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने ग्रामीणों से उनकी समस्याओं को सुना तथा सम्बन्धित अधिकारियों को त्वरित निस्तारण के निर्देश दिए। इस गांव के 35 किसानों को उन्नतिशील प्रजातियों का बीज वितरण एवं पशुओं का टीकाकरण हुआ है। प्रारम्भ में विद्यालय की छात्राओं द्वारा स्वागत गीत प्रस्तुत किया।
चैपाल कार्यक्रम को मुख्य विकास अधिकारी राधेश्याम ने सम्बोधित करते हुए कहा कि विकास कार्यों के सत्यापन में इस ग्राम ने एक आदर्श ग्राम का उदाहरण प्रस्तुत किया है। उन्होंने कहा कि विकास की जिन योजनाओं में कमियां मिले तो ग्रामवासी उन्हें सूचित कर सकते हैं, जिससे कमियों को सुधारा जा सके। 
चैपाल कार्यक्रम का संचालन जिला विकास अधिकारी डाॅ.डी.आर.विश्वकर्मा तथा वरिष्ठ पत्रकार केशव प्रसाद मिश्र ने किया। इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी ने ग्राम्य विकास की विभिन्न योजनाओं मनरेगा, एन.आर.एल.एम. , पेयजल, राज्य पोषण मिशन आदि कार्यक्रमों के बारे में ग्रामीणों को जागरूक किया। चैपाल कार्यक्रम में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कौस्तुभ कुमार सिंह, डी.एस.ओ. संजय कुमार प्रसाद, जिला समाज कल्याण अधिकारी आर.सी.दूबे , कृषि रक्षा अधिकारी अरूण त्रिपाठी तथा विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने विभागीय योजनाओं के बारे में ग्रामीणों को जानकारी दी। इस अवसर पर उपजिलाधिकारी प्रिया सिंह, जिला सूचना अधिकारी आर.बी.सिंह, तहसीलदार रामचन्द्र सरोज, खण्ड विकास अधिकारी विनय कुमार मिश्रा, संयुक्त खण्ड विकास अधिकारी इलियास अहमद आदि उपस्थित थे। ग्राम प्रधान उर्मिला पाण्डेय ने जिलाधिकारी तथा मुख्य विकास अधिकारी को प्रतीक चिन्ह व पुष्प भेंटकर स्वागत किया।

Post A Comment: