बिना डिग्रीधारी झोलाछाप चिकित्सकों की कट रही चांदी, विभाग हुई मौन, सिर्फ होती हैं शोषण
मो०शाकिब...
मुजफ्फरपुर- जिला के कई क्षेत्रों में बिना डिग्रीधारी एवं बिना रजिस्टर्ड मेडिसिन दुकाने एवं बिना रजिस्टर्ड क्लीनिकों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती जा रही हैं। आएं दिन इनलोगों की चांदी कट रही हैं। हमारी टीम ने एक नजर मोतीपुर प्रखंड क्षेत्रों पर फोकस की हैं। जहाँ मोतीपुर प्रखंड क्षेत्रों में फर्जी क्लीनिकों एवं झोलाछाप चिकित्सकों की चांदी कटती नजर आ रही हैं। सब कुछ जानने के बाद भी विभाग मौन पड़ी हुई हैं। सूत्रों के माने तो दूसरे चिकित्सक का बोर्ड लगा फर्जी चिकित्सक सिजेरियन आपरेशन कर रहे हैं। बीमारी को जल्द ठीक करने का झांसा देकर उगाही करने से झोलाछाप चिकित्सक बाज नही आ रहे हैं। इनलोगों के बिच प्रशासन की कोई खौफ नही दिखती हैं। विश्वसनीय सूत्रों का दावा हैं की झोलाछाप चिकित्सक विभाग के अधिकारियों से मिले हुए हैं। एक सूत्रधार युवक ने नाम नही छापने का वादा करते हुए कहाँ की सभी क्लीनिकों पर विभाग अपनी कमीशन तय कर रखी हैं। तभी तो इन अवैध क्लीनिकों पर विभाग की नजर नही पड़ती हैं। वही विभागीय अधिकारीयों का दावा हैं की उनके ऊपर लगाएं गए कमीशन वाली आरोप बेबुनियाद हैं। जानकारी हो की मोतीपुर थाना क्षेत्र के मोतीपुर बाजार, गांधी चौक, बरुराज थाना क्षेत्र के बरुराज, फुलवरिया, कथैया थाना क्षेत्र के ठिकहाँ बाजार सहित मोतीपुर प्रखंड के विभिन्न जगहों पर बिना रजिस्टर्ड क्लीनिक एवं दवाई दुकान धरले से चलाई जा रही हैं। सब कुछ जानने के बाद भी विभाग पूरी तरह कान में तेल डालकर सो रही हैं। हैरान की बात यह है की कई चिकित्सक ऐसे हैं जो दूसरे डॉक्टर का बोर्ड एवं रजिस्टेशन नंम्बर बोर्ड पर लगाकर लोगों का ऑपरेशन करते हैं।  साथ ही सही ढंग से ऑपरेशन करने का झांसा देकर ग्रामीणों एवं गरीबो से मोटी रकम भी वसूलते हैं। दूसरे चिकित्सक का बोर्ड लगाकर ऑपरेशन एवं इलाज करने का फर्जीवाड़ा वाली खेल लगभग लंबे समय से चल रही हैं। कुछ बुद्धजीवी लोगों ने इस मामले को बहुत बड़ा फर्जीवाड़ा बताते हुए जाँच का विषय बताया हैं। साथ ही जाँच कर अवैध ढंग से चल रही सभी क्लीनिकों एवं मेडिसिनों पर अभिलंब कार्यवाई करने की मांग की हैं। इस संबंध में कई राजनितिक दलों ने आक्रोश जाहिर करते हुए अवैध रूप से चल रहे क्लीनिकों एवं मेडिसिनों पर अभिलंब कार्यवाई नही होने पर आंदोलन करने की चेतावनी भी दी हैं।  उपयुक्त मामले में मुजफ्फरपुर सिविल सर्जन का कहना हैं की ऐसी कोई शिकायत नही हैं पर जाँच कराई जायगी। जबकि सूत्रों का दावा हैं की जिला में 70% क्लीनिक एवं मेडिसिन बिना रजिस्टेशन की चलाइ जा रही हैं। इधर मोतीपुर प्रखंड प्रमुख पूनम गुप्ता का कहना हैं की मोतीपुर में झोलाछाप वाली मामला जो प्रकाश में आई हैं ओ पूरी तरह सत्य हैं। इस सबंध में विभागीय बिहार एवं केंद्रीय मंत्री एवं प्रधान मंत्री को पत्र भेजकर कार्यवाई की मांग की जायगी। वही बरुराज विधायक नंदकुमार राय ने स्वास्थ विभाग के प्रति नराजगी प्रकट करते हुए मुद्दे को विधानसभा में उठाने का आश्वाशन दिए। साथ ही जदयू नेता विनय पटेल, मजहरुल हक का कहना हैं की रिश्वत के बदौलत यह खेल खेली जाती हैं मामले में बरुराज जदयू मंडली अपने समस्त कार्यकर्ताओं के साथ सीएम से मिलकर कार्यवाई की मांग करेगी।

Post A Comment: