आत्म निर्भर बने महिलाएं-- जेल अधीक्षक

कारागार में मना महिला दिवस

सुल्तानपुर। महिलाओं को अपराधबोध से मुक्त होकर आत्म निर्भर बनना होगा। ये बातें जेल अधीक्षक अमिता दुबे ने कही। वे जिला कारागार में विश्व महिला दिवस पर आयोजित गोष्ठी में बोल रही थीं। 
प्रताप सेवा समिति के एकता परिवार परामर्श केंद्र द्वारा महिला बैरक में आयोजित कार्यक्रम में मौजूद महिला बंदियों से काउंसलर सरिता यादव ने कहा कि जेल में निरुद्धि के समय हुनर मंद बने शिल्प सीखे जिससे बाहर जाने पर जीविका चलाने में मदद हो सके। डिप्टी जेलर आरती पटेल ने कहा कि आपराधिक मानसिकता को त्याग कर अपने को व्यवहारिकता में ढालना होगा। जेल अधीक्षक दुबे ने कहा कि आत्म निर्भर बन कर पूरे परिवार को सम्हाला जा सकता है। इस अवसर पर महिला बंदियों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया ।बंदियों को बिस्किट और बच्चों को चॉकलेट दिया गया। कार्यक्रम में सिलाई प्रशिक्षिका रिद्धि सिंह हेड वार्डन गीता व अंजू मौजूद रहीं।

Post A Comment: