राष्ट्रकवि दिनकर फिल्मसिटी बनाएगी "बज्जिका" भाषा की पहली फीचर फिल्म

बिहार ब्यूरो अनूप नारायण सिंह :

।शाहपुर पटोरी, उत्तर बिहार के कई जिलों की प्रमुख भाषा के रूप में प्रयोग की जाने वाली "बज्जिका" में भी पहली बार फीचर फिल्म निर्माण की दिशा में कदम बढ़ाया जा रहा है।इन बातों की जानकारी बिहार सिने आर्टिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष सह फ़िल्म अभिनेता अमित कश्यप ने "साहित्यकार सम्मान समारोह" के दौरान सिरदिलपुर स्थित "रामदुलारी साहित्यकार मंडल" के सभागार में दी।श्री कश्यप ने कहा कि बिहार की कई भाषाओं भोजपुरी,मगही, मैथिली में फ़िल्म का निर्माण हो चुका है किंतु बज्जिका में अभी तक इस ओर प्रयास नहीं किया जा सका है,जो दुर्भाग्यपूर्ण है।उन्होंने कहा कि फ़िल्म निर्माण से क्षेत्रीय भाषाओं की समृद्धि के साथ साथ उसकी व्यापकता भी बढ़ती है।उन्होंने कहा कि चर्चित फिल्म निर्माण कंपनी राष्ट्रकवि दिनकर फिल्मसिटी के द्वारा पहली बज्जिका फ़िल्म का निर्माण किया जाएगा।पटोरी के चर्चित साहित्यकार ज्वाला सांध्य पुष्प के द्वारा कथा-पटकथा तैयार की जा रही है। मौके पर समस्तीपुर की चर्चित साहित्यिक संस्था "अभिव्यक्ति" द्वारा श्री पुष्प को "कलक्टर सिंह केसरी साहित्य शिखर सम्मान" से सम्मानित किया गया।मौके पर अभिव्यक्ति के संस्थापक अध्यक्ष चर्चित साहित्यकार चाँद मुसाफ़िर,पूर्व राजभाषा पदाधिकारी द्वारिका राय सुबोध,पूर्व प्रधानाध्यापक बासुकी नाथ सिंह,ई. अवधेश सिंह,दुखित राम भक्तराज,अरुण कुमार सिंह,डॉ प्रेम कुमार पांडे,अधिवक्ता चंद्रकांत धीरज,मारुतिनंदन सिंह,फ़िरोज़ समस्तीपुरी आदि थे।इससे पूर्व पटोरी के आस पास के कुछ क्षेत्रों का दौरा कर फ़िल्म के लिए लोकेशन भी देखा।

Post A Comment: