अनूप नारायण सिंह
पटना 17 अप्रैल राजधानी पटना के मशहूर डांस इंस्टीच्यूट एटीच्यूड एकेदकी
का दूसरा वार्षिक कार्यक्रम धूमधाम के साथ मनाया गया ।
        एमओएम इवेंट के मालिक श्री कौशलेन्द्र कुमार की ओर से योजित
एटीच्यूड एकेदकी के दूसरे वार्षिक कार्यक्रम की शुरूआत दीप प्रज्जवलन के
साथ हुयी। कार्यक्रम में श्रीमती चुमकी दास के  एटीच्यूड एकेदमी
इंस्टीच्यूट के तीन वर्ष के बच्चों से लेकर 50 से अधिक उम्र की महिलाओं
ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया और अपनी धमाकेदार प्रस्तुति से लोगों का दिल
जीत लिया। कार्यक्रम के दौरान नन्हें प्रतिभागियों ने लोकप्रिय डांस नंबर
“इतनी सी हस्सी” और “तम्मा तम्मा पर डांस कर समां बांध दिया। महिला
प्रतिभागियों ने भी सुपरहिट आइटम नंबर लैला मैं लैला और रसके कमर जैसे
लोकप्रिय गानों पर डांस कर कार्यक्रम की रौनक बढ़ा दी।कार्यक्रम में
प्रतिभागियों ने शास्त्रीय संगीत से लेकर पाश्चात्य संगीत पर आधारित डांस
के जरिये लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। कार्यक्रम के दौरान प्रतिभागियों
के द्वारा मार्शल आर्ट ,जिमनास्टिक ,कत्थक , फ्री स्टाइल ,शास्त्रीय
संगीत और मौजूदा दौर पर आधारित डांस प्रस्तुत किये गये। कार्यकम का मुख्य
आकर्षण जुंबा प्रस्तुति रही जिसमें श्रीमती दास के अलावा कई प्रतिभागियों
जिनमें 50 और उसके अधिक उम्र की महिलायें भी शामिल थी।इस अवसर पर  52
वर्षीय डा नीलम झा ने कहा कि जुंबा उन्हें स्वस्थ और खुश रखता है और
उन्हें यह करना पसंद है।
        कार्यक्रम में जाने माने स्टैंडअप कॉमेडियन सतीश पप्पू ने अपनी लाजवाब
प्रस्तुति दी जबकि हर दिल अजीज विशाल बाबा सोनी ने अपने लाजवाब
पार्श्वगायन से लोगों का दिल जीत लिया। इस अवसर पर एमओएम इवेंट के मालिक
श्री कौशलेन्द्र कुमार , जानी मानी समाज सेविका डा मीनाक्षी स्वराज ,
  और आरती एंग्लो मुरल एंड
आर्टस क्लासेस की आरती सहगल को फूल-बुके और मोमेंटो देकर सम्मानित किया
गया।मंच का सफल संचालन आकांक्षा श्री ने किया जो स्वयं एटीच्यूड की
छात्रा है। उन्होंने कहा कि इस तरह के कार्यक्रमों से जुडकर वह गौरव
महसूस करती है।
   जुम्बा फिटनेस ,जुम्बा बी 2 ,जुम्बा टोनिंग और जुम्बा स्ट्राग का
लाइसेंस ले चुकी एटीच्यूड संस्था की प्रमुख चुमकी दास स्वयं विधार्थियों
को प्रशिक्षित करती है। वह शहर की पहली लाइसेंसड जुंबा प्रशिक्षक
है।चुमकी दास ने कहा कि जुंबा आसानी से लोग कर सकते हैं1 जुंबा से लोगों
में जोश और उर्जा का संचार होता है और वे इसका आनंद उठा सकते हैं।उनहोंने
कहा कि एटीच्यूड एकेडमी अपने विधार्थियों को सिर्फ डांस में ही नही
प्रशिक्षण देता है बल्कि वह उनके फिटनेस , कला एवं पूरे व्यक्तित्व को
निखारने में प्रयास करता है। एकेडमी में विधार्थियों को मार्शल आर्ट ,
जिमनास्टिक ,शिल्प एवं कला और बॉडी फिटनेस की ट्रेनिंग दी जाती है।
        मिसेज जलालपुर और कोलकाता सुंदरी जैसे कई सम्मान से नवाजी जा चुकी चुमकी
दास ने बताया कि जुम्बा एक तरह का डांस ही है जो फिटनेस से प्रेरित है।यह
लोगों को फिटनेस के प्रति जागरूक करता है।जुम्बा ग्लोबल ब्राड अमबेस्डर
सुचेता पाल को अपनी आदर्श मानने वाली चुमकी दास ने कहा मैंने पैसे को कभी
महत्व नही दिया । बस महिलाओं को सशक्त और फिट बनाने का जूनून सवार हो
गया। लड़कियों को प्रशिक्षण दे रही हूँ । जो सक्षम नही है निशुलक
प्रशिक्षण दे रही हूँ। कार्यक्रम के अंत में मार्शल आर्ट्स,
जिमनास्टिक्स, डांस और जुंबा  पर परफार्म करने वाले प्रतिभागियों को उनके
उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए प्रमाण पत्र और पदक देकर सम्मानित किया गया।

Post A Comment: