पटना09 अप्रैल 2018 : पटना यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव में गड़बड़ी और अपनी जायज मांगों को लेकर शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर छात्रों पर पुलिस द्वारा बर्बतापूर्ण लाठीचार्ज की घटना को जन अधिकार छात्र परिषद ने कठोर शब्‍दों में निंदा की है। छात्र परिषद के प्रदेश उपाध्‍यक्ष विकास बॉक्‍सर ने कहा कि सत्ता के नशे में मदहोश सरकार और पटना विश्वविद्यालय के तानाशाह कुलपति लोकतंत्र की गला घोटकर फर्जीवाड़ कर पटना विश्वविद्यालय के फर्जी छात्र संघ का शपथ ग्रहण कराने का षड्यंत्र किया है। उन्‍होंने कहा कि शपथ ग्रहण का विरोध कर रहे जन अधिकार छात्र परिषद के प्रदेश अध्‍यक्ष गौतम आनंद सहित अन्य छात्र नेताओं व अनेकों कार्यकर्ताओं पर भगवाधारी गुंडे और वर्दी धारी गुंडों के द्वारा बेरहमी पीटा गया है।
विकास ने कहा कि लोकतंत्र में विरोध करना हर किसी का अधिकार है। लेकिन आज जिस प्रकार से पटना विश्वविद्यालय में तानाशाही रवैया से प्रशासन और सरकार के इशारे पर छात्रों पर हमला किया गया हैइससे बात साबित हो गयी कि देश में लोकतंत्र खतरे में है। जन अधिकार छात्र परिषद कैंपस में लोकतंत्र की हत्‍या के खिलाफ जल्‍द ही जोरदार प्रदर्शन करेगीताकि कैंपस में लोकतंत्र की रक्षा हो सके और भगवा राज नस्‍तेनाबूद हो सके।
वहींपटना विवि में पुलिस द्वारा बेरहमी से पीटे जाने के बाद जन अधिकार छात्र परिषद के प्रदेश अध्‍यक्ष गौतम आनंद समेत कई छात्रों को गंभीर अवस्‍था में पीएमसीएच में भर्ती करवाया गया है। इस दौरान अस्‍पताल में जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्‍ट्रीय महासचिव सह प्रवक्‍ता प्रेमचंद सिंह और राजेश रंजन पप्‍पू ने गौतम आंनद का हाल जाना और कहा कि पटना विवि के कुलपति का यह तानाशाही रवैया निंदनीय है और यह लोकतंत्र में स्‍वीकार्य नहीं है। ये पटना विवि के लिए और भी चिंताजनक है कि भगवाधारी गंडों ने पुलिस के साथ मिलकर प्रदर्शन कर रहे छात्रों को पीटा है। इससे पहले शपथ ग्रहण समारो‍ह के दौरान सचिव पद पर विजयी रहे जन अधिकार छात्र परिषद के आजाद चांद ने विरोध स्‍वरूप शपथ पत्र फाड़ दिया। 

Post A Comment: