झारखंड : चतरा जिले के इटखोरी के राजाकेंदुआ गांव में रेप के बाद किशोरी को जिंदा जलाने के मामले में पुलिस ने 14 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस आयुक्त जितेंद्र सिंह ने बताया कि गांव की मुखिया तिलेश्वरी देवी समेत दो लोगों से इस मामले में पूछताछ चल रही है. इस मामले को लेकर झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने भी  दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं.

चतरा के उप कलेक्टर अनवर हुसैन ने बताया कि पीड़िता के परिवार को तत्काल एक लाख रुपये की सहायता राशि दी गई है|

पुलिस आयुक्त जितेंद्र सिंह ने बताया कि गैंगरेप के बाद पंचायत ने पीड़िता के परिवार से कहा कि आरोपियों से 100 उठक-बैठक करवाकर और 50 हजार रुपये लेकर मामला रफा-दफा कर दो. पीड़िता  के परिवार राजी नहीं हुआ तो आरोपी के परिवार ने नाबालिग के पिता की पंचायत में ही पिटाई कर दी और घर में घुसकर पीड़िता को जिंदा जला दिया.पुलिस ने अधजला शव बरामद कर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. थाने में मृतका के पिता के बयान के आधार पर कई लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज की गई है.

किशोरी के पिता के अनुसार, कोनी पंचायत के राजाकेंदुआ गांव का एक व्यक्ति धनु भुईयां गुरुवार रात को उसकी बेटी को बहला-फुसला कर बाइक से कहीं ले गया. वापस लौटने के बाद किशोरी ने अपने परिजनों को बताया कि धनु भुइयां ने उसके साथ रेप किया है. इसकी शिकायत परिवार ने पंचायत में की. शुक्रवार सुबह पंचायत बैठी. उसमें मुखिया तिलेश्वरी देवी और अन्य पंचों ने मामला रफा-दफा करने का फैसला दिया था. जिसके बाद पीड़िता की हत्या कर दी गयी.

Post A Comment: