अब  चिन्हित स्थलों पर पौधरोपण 
सुलतानपुर 
 मुख्य विकास अधिकारी राधेश्याम ने सभी कार्यालयाध्यक्षों को निर्देशित करते हुए कहा कि वृक्षारोपण हेतु आवंटित लक्ष्य के सापेक्ष एक सप्ताह के अन्दर चिन्हित स्थलों पर गड्ढ़ा खुदाई का कार्य कराकर पौध रोपण किया जाय। उन्होंने बताया कि जनपद में वृक्षारोपण हेतु 22 लाख 62 हजार वृक्षारोपण लक्ष्य के सापेक्ष अब तक विभिन्न विभागों द्वारा स्थलों का चयन कर 16 लाख 53 हजार 828 गड्ढ़े खोदे गए हैं। मुख्य विकास अधिकारी आज कलेक्ट्रेट में वृक्षारोपण समिति की बैठक में यह जानकारी दी। 
मुख्य विकास अधिकारी ने बैठक में विभागवार आवंटित वृक्षारोपण लक्ष्य के सापेक्ष खोदे गए गड्ढ़ों तथा रोपित किए गए पौधों की समीक्षा की। उन्होंने समीक्षा में पाया कि अब तक विभिन्न विभागों द्वारा चिन्हित स्थलों पर 8 लाख 62 हजार 828 तथा वन विभाग द्वारा 7 लाख 92 हजार 200 गड्ढ़े खोदे जा चुके हैं। उन्होंने सभी कार्यालयाध्यक्षों को निर्देशित किया कि जहां पर गड्ढ़े खोदे गए हैं, वहां पर पौध रोपण यथाशीघ्र किया जाय तथा अवशेष स्थलों पर गड्ढ़ा खुदाई का कार्य तीन दिवस के अन्दर पूर्ण किया जाय। सीडीओ ने बताया कि वन विभाग द्वारा सभी कार्यालयाध्यक्षों को पौध नर्सरियों की सूची व रेट उपलब्ध कराये जा चुके हैं। कार्यालयाध्यक्ष पौध नर्सरियों से सम्पर्क कर तथा पौध प्राप्त कर  यथाशीघ्र वृक्षारोपण का कार्य सुनिश्चित करें। 
सीडीओ ने बैठक में उपस्थित सुलतानपुर तथा अमेठी जिले के निजी पौध नर्सरी के स्वामियों को निर्देशित किया कि वे विकास भवन स्थित मनरेगा सेल में तत्काल अपना रजिस्ट्रेशन करा लें, जिससे उन्हें कार्यालयाध्यक्षों तथा खण्ड विकास अधिकारियों द्वारा वृक्षारोपण हेतु पौध के लिए आदेश जारी किया जा सके। उन्होंने निजी पौधशालाओं के स्वामियों से कहा कि उन्हें अपने नर्सरी से आवंटित ब्लाक मुख्यालय तक पौध भेजना पड़ेगा, जहां से ग्राम पंचायतों कर्मी सम्बन्धित ग्रामों में पौध ले जाना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि निजी पौधशालाओं के स्वामी पौध की प्राप्ति रसीद प्राप्त करते हुए यथाशीघ्र सम्बन्धित कार्यालय को भुगतान हेतु बिल /बीजक प्रस्तुत करें। उन्होंने कहा कि निजी पौधशालाओं के स्वामियों को वन विभाग तथा उद्यान विभाग द्वारा निर्धारित दर पर पौध की आपूर्ति करनी होगी। 
बैठक का संचालन एसडीओ वन अतुलकांत शुक्ला ने किया तथा कार्यालयाध्यक्षों को निजी पौध नर्सरियों की सूची उपलब्ध करायी। बैठक में अपर उपजिलाधिकारी प्रमोद पाण्डेय, उपजिलाधिकारी बल्दीराय प्रतिपाल सिंह चैहान, अतिरिक्त मजिस्ट्रेट सलिल कुमार पटेल, उपायुक्त मनरेगा विनय कुमार श्रीवास्तव, जिला सूचना अधिकारी आर.बी.सिंह, बेसिक शिक्षा अधिकारी के.के.सिंह, एआरटीओ माला वाजपेयी, एसीएमओ राम आसरे, वन विभाग के रेन्जर बीके मिश्रा व सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। 

Post A Comment: