*रसूलाबाद कानपुर देहात*     
           जनपद के जिलाधिकारी के निर्देश पर सिंघम राजीव उपाध्याय ने  स्वास्थ्य केंद्र व स्कूलों पर छापा मारकर आकस्मिक निरीक्षण किया  तो डॉक्टर व शिक्षक  अनुपस्थित मिले ही साथ में कई जगह उन्हें प्राथमिक विद्यालय  ही बंद मिले जिस से चिंतित तहसीलदार ने जनपद के जिलाधिकारी को रिपोर्ट भेजकर लापरवाह  शिक्षकों  व चिकित्सको व नर्सो के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाने की अनुशंसा की है।
    तहसीलदार रसूलाबाद राजीव उपाध्याय ने बताया कि   क्षेत्र में शिक्षा व्यवस्था कितनी बदहाल है कि प्राथमिक विद्यालय देलही बन्द ही मिला जब कि प्रधानाद्यापक लीलावती उसी गांव की है वह अनुपस्थित मिली साथ ही भानु प्रताप व ज्योति कुमारी शिक्षामित्र अनुपस्थित मिले ।जूनियर है स्कूल दहेली  में सभी उपस्थित मिले साथ ही शिक्षकों के अनुरोध पर 5 बृक्षों का पौध रोपण कर पर्यावरण संतुलित रखने के लिये बृक्ष लगाने की अपील की गई । कन्या उच्च प्राथमिक विद्यालय  कहिजरी  रुकसाना शिक्षक अक्टूबर 16 से अनुपस्थित मिली जिनका कोई लिखित अवकाश भी रिकार्डो में नही मिला ।उनका कहना था इन्हें तो सेवा रहने का कोई अधिकार नही है इनकी रिपोर्ट बेसिक शिक्षाधिकारी को अलग से भी भेजी जा रही है ।पूर्व माध्यमिक विद्यालय कहिजरी में शालिनी मिश्रा अनुपस्थित मिली तो प्राथमिक विद्यालय कहिजरी प्रथम मॉडल स्कूल जो यूपी सरकार की विशेष अभिरुचि पर संचालित है का हाल  ही बेहाल था ।जहां 160 बच्चों में मात्र 30 बच्चे ही उपस्थित मिले  यहाँ 5 शिक्षक जो विशेष योग्य है उन्हें शिक्षण कार्य मे लगाया गया है वहां के बच्चे जेड फार जेब्रा के साथ कक्षा 5 के छात्र  चाइल्ड नही लिख पाए ।जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि शिक्षा व्यवस्था कितनी ही दयनीय है ।ऐसा लगता है कि शिक्षा विभाग के अधिकारी देश के भावी भविष्यों के प्रति कितने लापरवाह बने हुए है ।मिनी आंगनवाड़ी केंद्रों मकरंदपुर कहिजरी बन्द पाया गया यहां पोषाहार भी केंद्र पर नही मौजूद मिला ।आंगनवाड़ी केंद्र कहिजरीप्रथम राम दुलारी तो मिली सहायिका गायब मिली ,आंगनवाड़ी मकरंदपुर कहिजरी पुष्प देवी सहायिका मिली और माधुरी देवी अनुपस्थित मिली ।यहां पोषाहार बच्चों में वितरण न करने की शिकायत जनता द्वारा की गई ।प्रतीत होता है कि जिला कार्यक्रम अधिकारी क्षेत्र में भ्रमड़ नही करते है जिसके कारण बच्चों के पोषाहार में गड़बड़ी की जा रही है । उन्होंने बताया चिकित्सा व्यवस्था कितनी बदहाल है इसका अंदाजा यह से लगाया जा सकता है कि नवीन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कहिजरी में निरीक्षण दौरान डॉ अंसुल  फार्मासिस्ट रेखा गीता व रामा अनुपस्थित मिली तथा रामरानी  व चपरासी सुमित उपस्थित मिली ।साथ ही चादरें खून की सनी मिली साफ सफाई का पूर्ण अभाव देखा गया ।जो बहुत ही चिंतनीय बात है ।उन्होंने बताया कि सभी शिक्षा व चिकित्सा विभाग के अनुपस्थित कर्मचारियों के खिलाफ जिलाधिकारी को रिपोर्ट भेजकर सख्त कार्य वाही की अनुसन्सा की गई है ।उन्होंने बताया जब तक दोनों विभाग अपने मे सुधार नही करेंगे तब तक मेरा यह अभियान जारी रहेगा ।

Post A Comment: