स्वास्थ्य कार्यक्रमों के क्रियान्वयन में किसी भी स्तर पर शिथिलता
बरतनें पर कड़ी कार्यवाही होगी-सीडीओ
खराब प्रगति पर चार प्रभारी चिकित्साधिकारियों का स्पष्टीकरण।
        सुलतानपुर
मुख्य विकास अधिकारी राधेश्याम ने सभी सम्बन्धित को निर्देशित करते हुए
कहा कि स्वास्थ्य कार्यक्रमों के क्रियान्वयन में किसी भी स्तर पर
शिथिलता क्षम्य नहीं होगी। उन्होंने स्वास्थ्य कार्यक्रमों में खराब
प्रगति पर जयसिंहपुर, धनपतगंज, दोस्तपुर तथा भदैंया के प्रभारी
चिकित्साधिकारियों का स्पष्टीकरण प्राप्त करने तथा प्रगति में सुधार लाने
के निर्देश दिए। मुख्य विकास अधिकारी गत दिवस देर सायं कलेक्ट्रेट में
आयोजित जिला स्वास्थ्य समिति एवं पल्स पोलियो प्रतिरक्षण अभियान के
सम्बन्ध में एक बैठक को सम्बोधित कर रहे थे।
        सीडीओ ने समीक्षा में पाया कि विभिन्न कार्यक्रमों में चार प्रभारी
चिकित्साधिकारियों जयसिंहपुर, धनपतगंज, दोस्तपुर तथा भदैंया की प्रगति
सबसे खराब है। उन्होंने इन सभी प्रभारी चिकित्साधिकारियों से स्पष्टीकरण
प्राप्त करने के निर्देश दिए तथा कहा कि प्रगति में सुधार न होने पर कड़ी
कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने बैठक में आयुष्मान भारत, प्रधानमंत्री
मातृ बन्दना योजना, मदर तथा चाइल्ड रजिस्ट्रेशन, फुल इम्युनाईजेशन, फुल
ए.एन.सी तथा डिलीवरी आदि कार्यक्रमों की समीक्षा की। उन्होंने
प्रधानमंत्री मातृ बन्दना योजना की समीक्षा में पाया कि कतिपय आशाओं की
निष्क्रियता के कारण आशातीत प्रगति नहीं है। उन्होंने कहा कि  निष्क्रिय
आशाओं की सेवाएं समाप्त करने की कार्यवाही की जाय। आयुष्मान भारत योजना
का लक्ष्य 30 जुलाई तक शतप्रतिशत करने के निर्देश दिए।
        बैठक का संचालन करते हुए मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ.सीबीएन त्रिपाठी ने
बताया कि प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी आगामी 01 अगस्त से 07 अगस्त
तक विश्व स्तनपान सप्ताह का आयोजन किया जाना है। उन्होंने बताया कि शिशु
के लिए स्तनपान सर्वोत्तम आहार तथा शिशु का मौलिक अधिकार है। उन्हांेने
बताया कि सघन दस्त नियंत्रण पखवाड़ा 27 जुलाई से 09 अगस्त 2018 के मध्य
मनाया जायेगा। उन्होंने सभी सम्बन्धित को अभियान को सफल बनाने के निर्देश
दिए।
        इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में पल्स पोलियो
प्रतिरक्षण अभियान से सम्बन्धित जिला टास्क फोर्स की बैठक भी सम्पन्न
हुई। पल्स  पोलिया प्रतिरक्षण अभियान आगामी 05 अगस्त को होगा। मुख्य
विकास अधिकारी ने सभी सम्बन्धित को पल्स पोलियो प्रतिरक्षण अभियान को
प्राथमिकता पर क्रियान्वित करने पर बल दिया तथा कहा कि अभियान में
शिथिलता पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने बूथ दिवस पांच अगस्त को
सफल बनाने हेतु बूथ कवरेज बढ़ाने पर बल दिया। मुख्य विकास अधिकारी ने
बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया कि वे आगामी 05 अगस्त को
(रविवार) को प्राथमिक विद्यालय खुलवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने जिला
कार्यक्रम अधिकारी, पंचायती राज विभाग को अभियान को सफल बनाने में सहयोग
देने के निर्देश दिए।
        बैठक का संचालन करते हुए मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ. सीबीएन त्रिपाठी ने
बताया कि बूथ दिवस 05 अगस्त को है तथा घर-घर दिवस 06 अगस्त से 10 अगस्त
तक है। उन्होंने बताया कि इस अभियान में कुल 1107 पोलियो बूथ बनायें
जायेंगे तथा 25 मोबाइल टीमें , 36 ट्रांजिट टीमें गठित की जायेंगी।
स्टेटिक बूथों की संख्या 19 , सेक्टर सुपरवाइजरों की संख्या 45 तथा टीम
सुपरवाइजरों की संख्या 241 है। उन्होंने सभी विभागों से अभियान को सफल
बनाने में सहयोग देने का अनुरोध किया।
        बैठक में संयुक्त मजिस्ट्रेट प्रणय सिंह, उपजिलाधिकारी सदर जेपी सिंह,
अपर उपजिलाधिकारी प्रमोद पाण्डेय, अतिरिक्त मजिस्ट्रेट सलिल पटेल, सीएमएस
डाॅ. बीबी सिंह, सीएमएस महिला डाॅ. उर्मिला चैधरी, जिला सूचना अधिकारी
आरबी सिंह, डीपीएम सन्तोष कुमार व सम्बन्धित उपस्थित थे।

Post A Comment: