समाज कल्याण मंत्री को बर्खास्त करे नीतीश कुमार : आप 

पटना, आम आदमी पार्टी बिहार के प्रदेश प्रवक्ता शत्रुघ्न साहु ने प्रदेश कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में कहा कि मुजफ्फरपुर के बालिका सुधार गृह में नाबालिग बच्चियों के साथ हुई रेप की घटना ने पूरे देश एवं दुनिया में समस्त राज्यवासियों को शर्मसार किया है. यह घटना देश के लोकतंत्र एवं संविधान पर कलंक की तरह है. इस घटना की जितनी भी निंदा की जाये, वह कम है. श्री साहू ने कहा कि अगर राज्य के मुख्यमंत्री में रत्तीभर भी नैतिकता बची है तो उन्हें अविलम्ब इस्तीफ़ा दे देनी चाहिये. 

उन्होंने कहा कि 29 लड़कियों के साथ रेप की पुष्टि हो चुकी है. गवाहों के बयान आ रहे हैं कि समाज कल्याण मंत्री के पति अधिकारियों को नीचे छोड़कर अकेले लड़कियों के कमरे में ऊपर जाया करते थे. तो अब तक समाज कल्याण मंत्री का इस्तीफ़ा क्यों नहीं लिया गया ? अब तक मंत्री के पति की गिरफ्तारी क्यों नहीं हुई ?

उन्होंने कहा कि संचालक, नेताओं एवं अधिकारियों की मिलीभगत से बालिका सुधार गृह को कोठे में तब्दील कर दिया गया. टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज के सोशल ऑडिट में इस तरह की घटना का रिपोर्ट आने के बाद भी राज्य सरकार ने कोई त्वरित कार्रवाई नहीं की. सोशल आंडिट में मुजफ्फरपुर के बालिका गृह समेत राज्य के कुल 13 संस्थानों पर गम्भीर आरोप लगे हैं, उन बाकी संस्थानों पर भी अभी तक कोई कारवाई नहीं हुई है. 

पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी बबलू कुमार प्रकाश ने कहा कि आम आदमी पार्टी की माँग है कि न्यायालय की देख-रेख में ही इस घटना की समस्त जाँच की जाये एवं 6 महीने के अन्दर कार्रवाई पूरी कर दोषियों को फाँसी की सज़ा दी जाये.

उन्होंने कहा कि अपनी इन माँगों को लेकर आम आदमी पार्टी आगामी 29 जुलाई को बिहार प्रभारी-सह-राज्यसभा सांसद संजय सिंह के नेतृत्व में राज्य सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते हुये राजभवन मार्च करेगी नाबालिगों के साथ रेप करने वाले दोषियों को फाँसी से कम की सज़ा पर पार्टी कोई समझौता नहीं करेगी. इसके लिये राज्यभर में आंदोलन किया जायेगा.

Post A Comment: