हर्ष राज की रिपोर्ट खगड़िया

अराधियों से मुठभेड़ में दरोगा शहीद,कुख्यात अपराधी दिनेश मुनि से हुइ मुठभेड़।

गुप्त सूचना के आधार पर भागलपुर खगड़िया सीमावर्ती इलाके में आपरेशन के दौरान हुइ घटना।

मुठभेड़ में एक जवान घायल ।

जिले - परबत्ता थाना के सलारपुर दियारा में अपराधी-पुलिस मुठभेड़ में पसराहा थाना अध्यक्ष आशीष कुमार सिंह शहीद हो गए हैं।
 एक सिपाही दुर्गेश कुमार को भी लगी गोली। पुलिस ने भी एक अपराधी को मार गिराया है। शहीद थानेदार आशीष कुमार सिंह सहरसा जिला के बलवाहाट ओपी सरोजा गांव निवासी गोपाल सिंह के पुत्र थे। तीन भाइयों में सबसे छोटे थे। वह आपने पीछे एक लड़का एक लड़की को छोड़ गए
शव को पोस्टमार्टम के लिए नवगछिया पुलिस के सहयोग से भागलपुर ले जाया गया है।जहां से पोस्टमार्टम बाद खगड़िया पुलिस लाइन ले जाया गया. , मिली जानकारी के मुताबिक पसराहा थानाध्यक्ष आशिश कुमार सिंह थाना क्षेत्र के तेहाय निवासी कुख्यात अपराधि दिनेश मुनि को गिरफ्तार करने खगड़िया भागलपुर जिले सीमावर्ती इलाके दूधैला मौजमा दियारा शुक्रबार को देर रात गए थे , परबत्ता थानाक्षेत्र के सलारपुर गांव होते हूए देर रात दूधैला दियारा ट्रैक्टर से पहुंचे थे।गुप्त सूचना के आधार पर किये गये इस आपरेशन में दियारा स्थित अपराधियों के ठिकाने पर पहुंच कर ज्योहिं आपरेशन शुरु किया अपराधियों से मुठभेड़ हो गयी।मुठभेड़ में सबसे पहले पुलिस बल के जवान दूर्गेश कुमार घायल हो गये।घायल जवान को पीछे हटाकर थानाध्यक्ष आशिश कुमार सिंह छिपे हूए अपराधियों ढुंढते हुए घर में घुसने लगे।
:-):-)इस दौरान अपने को घिरता देख अपराधियों ने घर के अंदर से सामने से आशिश कुमार सिंह पर गोली चला दी।गोली लगने से घायल दरोगा :-)आशिश कुमार सिंह ने अपराधियों पर गोली चलाइ।इस मुठभेड़ आशिश सिंह ने शहीद होने से पूर्व अपराधियों पर गोली चलाइ जिसमें एक अपराधी की मृत्यू की सूचना है।जबकि अन्य कुछ अपराधी की घायल की सूचना है।वहीं रात्री एक बजे के आसपास इस मुठभेड़ की सुचना खगड़िया के एसपी एवं नवगछिया एसपी को दी गयी।मुठभेड़ पसराहा थानाध्यक्ष आशिश कुमार सिंह के शहीद होने के बाद खगड़िया व नवगछिया के कई थानें के पुलिस बल सीमावर्ती इलाके में भेजा गया।जहां से शहीद आशिश कुमार सिंह एवं घायल जवान दूर्गेश कुमार यादव को भागलपुर मायागंज अस्पताल भेजा गया।घायल जवान का इलाज मायागंज भागलपुर में किया जा रहा है। जो कि वह खतरे से बाहर बतलाया जा रहा है, जबकि शहीद दरोगा के शव को पोस्टमार्टम हेतू मेडिकल कालेज भागलपुर ले जाया गया। पोस्टमार्टम के बाद शहीद आशीष कुमार सिंह को खगड़िया लाइन भेज दिया गया, वही घटना की सूचना मिलते ही खगड़िया के आस पास के सभी जिले से उनको देखने के  लिए भीड़ उमड़ पड़ी . वहीं अलग अलग राजनीति दलों के नेताओं द्वारा नम आंखों से विदाई दी गई. वहीं खगड़िया पुलिस अधीक्षक मीनू कुमारी एवं ASP राजकुमार राज के द्वारा टीम गठित कर गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है .

Post A Comment: