विनय कुमार मिश्र गोरखपुर ब्यूरों।जिला में बदमाशों ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया। हमले में दो सिपाही समेत एक दरोगा घायल हुए हैं। पुलिस टीम पर हमले की खबर मिलने पर एसएसपी सहित कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई। एसएसपी पहले थाना पर पहुंचे और उसके बाद फिर भारी पुलिस फोर्स लेकर रौतेनियाँ सरदारनगर गांव में पहुंचे। हमलावरों की तलाश में ताबड़तोड़ छापेमारी चल रही है। कुछ लोग हिरासत में भी लिए गए हैं। एहतियात के तौर पर गांव में पीएसी तैनात कर दी गई है। पुलिस ने घायल पुलिसकर्मियों को गंभीर हालत में मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।
जानकारी के मुताबिक, घटना चौरीचौरा थाना क्षेत्र का है। यहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह जनपद गोरखपुर के रउतनिया गांव में शातिर बदमाश मिथुन पासवान को पकड़ने गई थी। इसी दौरान बदमाश मिथुन और उसके परिजनों ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया। बदमाशों ने सिपाही वंश नारायण गौड़ को गोली मार दी। जबकि रॉड और लाठी-डंडों से दारोगा घनश्याम वर्मा और सिपाही शैलेन्द्र सिंह की पिटाई कर दी गई। गंभीर हालत में घायल पुलिसकर्मियों के मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। पुलिस टीम इनामी बदमाश मिथुन पासवान के घर विती रात दबिश देने गई थी। मिथुन पासवान 13 संगीन मुकदमों में वांछित है। साल 2017 में खोराबार पुलिस के साथ हुए मुठभेड़ में मिथुन बच निकला था। फिलहाल पुलिस टीम पर हमले के बाद से ही मिथुन फरार है। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस घेराबंदी की है।भारी पुलिस फोर्स के साथ एसएसपी खुद कॉम्बिंग कर रहे हैं। फिलहाल आईजी ने मेडिकल कॉलेज में घायल पुलिसकर्मियों का हालचाल जाना और डॉक्टरों को बेहतर सुविधा देने के लिए दिशा निर्देश दिए गए। पुलिस पूरे मामले की तफ्तीश कर रही है। मालुम हो कि यह गाँव काफी मनबढ़ों के गाँव में गिना जाता है।माना जाता है कि छोटी छोटी बातों पर इस गाँव के लोग मारमिट व बलवा के लिए  तैयार हो जाते है। पुलिस टीम को शायद इस बात का अंदेशा नही था कि इतनी बड़ी घटना घट सकती है।

Post A Comment: