विद्यादान के अतिरिक्त अन्य सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़ कर भाग लें उद्यमी: जिलाधिकारी 
उद्यमियों द्वारा विद्यादान व स्वच्छ भारत मिशन में सहयोग देने पर डीएम ने व्यक्त की प्रसन्नता

बहराइच 
कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव की अध्यक्षता में आयोजित जिला उद्योग बन्धु समिति की बैठक के दौरान उद्यमी विजय केडिया द्वारा बताया गया कि मिल परिसर के मुख्य गेट पर 33 केवीए विद्युत लाइन स्थापित है जो अत्यन्त जर्जर अवस्था में है तथा उद्यमी कुलभूषन अरोरा द्वारा बताया गया कि रोटरी क्लब भवन के उपर से विद्युत हाईटंेशन तार गया है। रोटरी क्लब द्वारा बालिकाओं के लिए सिलाई-कढ़ाई का प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाया जाता है। विद्युत लाइन की स्थिति अत्यन्त दयनीय है किसी भी समय विद्युत लाइन से कोई दुर्घटना हो सकती है व जानमाल के नुकसान की भी सम्भावना है। विद्युत लाइन को किसी अन्य सुरक्षित स्थान पर स्थानान्तरित अथवा अण्डरग्राउण्ड किये जाने का अनुरोध किया। 
अधि.अभि. विद्युत द्वारा अवगत कराया गया कि 33केवी की लाइन रिसिया उपकेन्द्र पर विगत 25-30 वर्षों से संचालित है। लाइन को भूमिगत किये जाने हेतु अनुमानित 40 लाख का व्यय आयेगा तथा 33/11 केवी विद्युत उपकेन्द्र कैसरगंज की विद्युत आपूर्ति हेतु 33केवी लाइन नीचे निर्मित कर लिया गया है। लाइन को भूमिगत किये जाने हेतु अनुमानित लागत लगभग 20 लाख व्यय होगा। यदि उपभोक्ता प्राक्कलित धनराशि जमा करने के इच्छुक है तो लाइन भूमिगत करने की कार्यवाही प्रारम्भ की जा सकती है। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने अधि.अभि. विद्युत को निर्देश दिया कि सुरक्षा हेतु उचित प्रबन्ध किया जाय। उन्होंने अधि.अभि. को जर्जर तार बदलने का निर्देश दिया।
बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने कौशल विकास मिशन के प्रबन्धक को निर्देश दिया कि प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे प्रशिक्षणार्थियों को 10-10 के समूह में जनपद मंे कार्यरत विभिन्न उद्योगांे/कारखानों में भेजा जाय जिससे बच्चे प्रशिक्षण प्राप्त करने के साथ-साथ विभिन्न उद्योगों में समायोजित हो सकें। उन्हांेने यह भी निर्देश दिया कि माह दिसम्बर में एक बृहद रोजगार मेले का आयोजन किया जाय। उन्होंने उद्यमियों से टेªनी लोगों को रोजगार दिलायें जाने में सहयोग प्रदान करने की अपेक्षा की। उद्यमी  विजय केडिया द्वारा अवगत कराया गया कि गल्ला मण्डी सलारपुर के सामने से जो रास्ता गया है वह अत्यन्त जर्जर स्थिति में है। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देश दिया कि रोड हेतु स्टीमेट बनाकर मेरी ओर से पत्र भेजा जाय। साथ ही भिनगा रोड से कल्पीपारा रोड जो जर्जर अवस्था में है, ठीक कराना सुनिश्चित करें। 
बैठक के दौरान बताया गया कि मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना 2018-19 प्रारम्भ की गयी है। योजनान्तर्गत भौतिक एवं वित्तीय लक्ष्य 167 इकाई व 163.30 लाख मार्जिन मनी/सब्सिडी आवंटित किया गया है। अपर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में टास्कफोर्स समिति की बैठक की गयी जिसमें 84 आवेदक पात्र पाये गये, जिनकी पत्रावली विभिन्न बैंक शाखाओं को प्रेषित की जा चुकी है। जिसके सापेक्ष अब तक 14 लाभार्थियों के रू. 150 लाख का एवं रू. 31.50 मार्जिन मनी का ऋण विभिन्न बैंक शाखाओं द्वारा स्वीकृत किया गया है। जिलाधिकारी ने एलडीएम को निर्देश दिया कि विभिन्न बैंक शाखाओं को प्रेषित किये गये ऋण पत्रावलियों को स्वीकृति प्रदान कराया जाय ताकि लाभार्थी अपना स्वरोजगार प्रारम्भ कर सकें। 
उपायुक्त उद्योग ने समिति को अवगत कराया गया कि एकल मेज व्यवस्था अन्तर्गत कुल 40 आवेदन आनलाइन प्राप्त हुए हैं जिसमें से 38 आवेदन प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड व 02 आवेदन विद्युत विभाग से सम्बन्धित हैं। उन्होंने बताया कि प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के 14 आवदेन पत्र समयान्तर्गत लम्बित हंै। बैठक में उपस्थित उद्यमी संगठनों, उद्यमियों व व्यापारियों से कारपोरेट सोशल रिस्पान्सिबिलटी (सीएसआर) के अन्तर्गत चर्चा के दौरान उद्यमी बृजमोहन मातनहेलिया द्वारा अवगत कराया गया कि उद्योग व्यापार मण्डल की तरफ से स्वच्छ भारत मिशन के तहत वाल पेंटिंग करायी जा रही है। अमित मित्तल द्वारा समिति को अवगत कराया कि कन्या पूर्व माध्यमिक विद्यालय, पुलिस लाइन में प्रतिदिन 1 घंटा अध्यापन का कार्य किया जा रहा है। जिसपर जिलाधिकारी द्वारा प्रसन्नता व्यक्त करते हुए बैठक में उपस्थित अन्य उद्यमियों व व्यापारियों से भी अपेक्षा की कि वे सप्ताह में कम से कम एक दिन विद्यादान के अतिरिक्त अन्य सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़ कर भाग लें जिससे कि जनपद का आर्थिक विकास के साथ-साथ सामाजिक विकास भी हो सके। 
जिलाधिकारी ने अवगत कराया कि स्कूलों में मिड डे मील बच्चों द्वारा जमीन पर बैठक कर खाया जाता है। इस सम्बन्ध में सीएसआर के तहत स्कूल में बच्चों के खाने हेतु उचित प्रबन्ध किया जाय जिससे बच्चे सही ढं़ग से भोजन कर सकें। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक डा. गौरव ग्रोवर, नगर मजिस्टेªट प्रदीप कुमार यादव, अधि.अभि. विद्युत मुकेश बाबू, उपायुक्त उद्योग मोहन शर्मा, उद्यमी अशोक मातनहेलिया, भगवान मित्तल, पीडी अग्रवाल, विजय केडिया, अमित मित्तल, सहित अन्य उद्यमी  व चीनी मिलों के प्रतिनिधि मौजूद रहे। 

Post A Comment: