मुज़फ़्फ़रपुर से राहुल कुमार के साथ मोo अनवारुल अंसारी का रिपोर्ट

मुज़फ़्फ़रपुर जिले के सकरा थाना क्षेत्र के मुरौल प्रखण्ड के प्रागण में साफ़ सफाई नाम कोई चीज नही जहां पर हजारों पुरूष एवं महिला की आवागमन है जहा महिला भी सौच करने के लिए भटकते है मुरौल प्रखण्ड में चार शौचालय है। जो कि काफी दिनों से गंदगी से भरा पड़ा है।जिससे लोगों को शौच करने में  परेशानी का सामान करना पड़ता है।शौचालय तो दूर यहा तक कि जल ही जीवन है जल के बिना इंसान जी नही सकता  जल भी प्रखण्ड कार्यालय में उपलब्ध नही है।जबकी प्रखण्ड में तीन चापाकाल है। जिसमें से दो बंद पड़ा है।और एक चापाकल चालू है जिसमें से गन्द पानी निकलता है।प्रशासनिक पदाधिकारी अपने लिए मिनरल वाटर पानी लाकर पीते है और जो गरीब जनता है वो अपना बैग में लेकर ही जाते है।अब प्रखण्ड में यही होना बाकी था प्रखंड के ही एक ऐसे जनता है जिनको सहन नही हुआ तो पत्रकार को बुला कर शम्भू नाथ राय ने बात बताई   ।क्या ये मुरौल प्रखण्ड के लिए सही  है पदाधिकारी को हाथ पर हाथ रखकर बैठना चाहिए।

Post A Comment: