बिहार

रोसड़ा: अनुमंडल संवाददाता - राज किशोर पासवान

रोसड़ा :यह घटना रोसड़ा के सिनेमा चौक- थाना रोड स्थित एसबीआई एटीएम के निकट की है ।   मानवता को झकझोर देने वाली एक करतूत देखने को मिला है.इस तरह की नीच करतूत ने बेटी बचाओ -बेटी पढ़ाओ के नारों को झूठा साबित कर दिया.ये करतूत ये बताने के लिए काफी है कि नारो और जमीनी हकीकत में काफी फर्क है.जिसे पालने में बरसों लग सकते है.लोगों की मानसिकता जल्द बदलने वाला नहीं है.
ताजातरीन घटना में लड़की रूप में जन्म लेने का खामियाजा एक नवजात शिशु को भुगतना पड़ा है.
 इस नवजात लड़की को जिंदा नाला में फेंक दिया गया.मनुष्य के पत्थर दिल का फायदा उठाते हुए कुत्तो ने नवजात शिशु को नोच नोच कर मार डाला.

ये हृदयविदारक घटना की चर्चा पूरे क्षेत्र में जोरो पर है.
लक्ष्मीपूजन पर लक्ष्मीरूपी बच्ची को जन्म के तुरंत बाद इस तरह मरने के लिए छोड़ देने की कुकृत्य को कोस रहे है लोग.


बताया गया कि जब कुत्ते नोच रहे थे,तब लोगों की नजर पड़ी थी.इस दृश्य को देख लोग अचंभित रह गए.धीरे धीरे भीड़ इकट्ठा हो गयी.स्थानीय थाने की पुलिस को इसकी सूचना दी गयी.पुलिस ने घटना स्थल पहुंच मानवता का परिचय देते हुए वहां से बच्ची का लाश हटवाया.घटनास्थल पर मौजूद महिला एवं पुरुष नवजात बच्ची को जन्म देकर फेकने वाले को कोस रहे थे.कुछ स्थानीय लोगों ने घटना पर अफसोस जताते हुए  बोला कि बच्चे को जोर जोर से रोने की आवाज आयी थी .हमे क्या पता कि फेंका हुआ नवजात बच्ची रो रही है जिसे कुत्ता नोच नोच कर खा रहा है.
यह घटना रोसड़ा के सिनेमा चौक- थाना रोड स्थित एसबीआई एटीएम के निकट की है.

Post A Comment: