पारा शिक्षकों के लिये जितना हमारी सरकार ने किया उतना किसी ने नही किया:प्रवीण प्रभाकर



धनबाद।अपने दौरे के दौरान भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रवीण प्रभाकर ने पारा शिक्षकों पर पूछे गए सवाल पर कहा कि जितना भाजपा सरकार ने पारा शिक्षकों के लिए काम किया है उतना अब तक के किसी सरकार ने काम नहीं किया। उत्तर प्रदेश में शिक्षामित्रों को स्थाई करने की प्रक्रिया सरकार ने शुरू की थी लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने उस पर रोक लगा दी उसी घटना से सबक लेते हुए भाजपा सरकार ने प्रदेश में इस प्रक्रिया को नहीं अपनाया। जबकि शिक्षकों की स्थायी बहाली में पारा शिक्षकों को 50% का अतिरिक्त आरक्षण दिया गया ताकि वो अपनी नियुक्ति स्थाई शिक्षक के रूप में करवा सकें ।इसके अलावा उनकी सेवा 60 वर्ष की गई ताकि उन्हें जॉब सिक्योरिटी मिले समय-समय पर सरकार मानदेय में वृद्धि करती रही है इसके अलावा मेडिकल फैसिलिटी और अन्य सुविधाएं भी सरकार देने का काम पारा शिक्षकों को कर रही है। और बहुत जल्द ही संगठन के द्वारा इस पर निर्णय लिया जाएगा और सरकार से इंप्लीमेंट करने का काम करेगी जो कि सबके हित में होगा।


विपक्ष  राजनीति के लिए पारा शिक्षकों को बना रहा है मोहरा


प्रदेश प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि झामुमो समेत तमाम विपक्षी पार्टियां पारा शिक्षकों को मोहरे के रूप में इस्तेमाल कर रही है और अपनी राजनीति चमकाने का काम कर रही है ।राज्य की स्थापना दिवस के अवसर पर विपक्ष ने पारा शिक्षकों को भड़काने का काम किया जिसकी वजह से पत्थरबाजी की घटनाएं घटी और उसके बाद लगातार झामुमो आग में घी डालने का काम कर रही है। विधायक ढुल्लू महतो और सांसद रविंद्र पांडे के बीच , पार्टी के जिला मंत्री कमला प्रकरण एवं कोल उद्योग बाघमारा क्षेत्र में ठक होने के मामले में प्रवक्ता ने साफ कहा कि पार्टी से बड़ा कोई नहीं है यह तीनों प्रकरण पर पार्टी के उच्च स्तरीय जांच की जा रही है जांच उपरांत  जो भी दोषी पाए जाएंगे  उस पर पार्टी जरूर कार्रवाई करेगी

Post A Comment: