फर्जी बैंक एजेंट को पकड़ कर गोरौल पुलिस को सौंपी।

रिपोर्टर-धर्मपाल पटेल
        पी न्यूज़

वैशाली/चेहराकला :-गोरौल थाना क्षेत्र के इसमाइलपुर पंचायत के गोपाली चौक पर आक्रोशित खाताधारकों ने  नन बैंकींग कार्यकर्ता को लेकर जमकर बबाल मचाई।आक्रोशित खाताधारकों ने उक्त. कार्यकर्ता को गोरौल पुलिस के हवाले किया।इस मामले में पुलिस ने बताया कि ग्रामीणों के लिखित शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर कानूनी पहल तेज कर दिया जायेगा।
   आक्रोशित खाताधारकों ने बताया कि   सोर्भजन मल्टी परप्स  काँपरेटीभ सोसायटी लिमिटेड कलकत्ता के नाम   के गोपाली चौक पर ग्रामीणों ने एक  नन बैंकिंग कंपनी के एजेंट कों पकड़कर हंगामा शुरू कर दिया।देखते देखते खाताधारकों की भीड़ उमड़ पड़ी।खाताधारकों ने बताया कि लगभग वर्ष 2012 से प्रति जमाकर्ता प्रत्येक दिन 10रुपये से 100 रुपये तक जमा किया करता था।  इसी बीच में उक्त बैंक की क्षेत्रीय शाखाएं बंद हो गई।उसके बाद भी खाताधारकों से राशी की वसूली की जाने के क्रम जिन जमाकर्ता निर्धारित अवधि पूरी होने के बाद राशी के भुगतान में आनाकानी करने पर आशंका उत्पन्न हुई और देखते ही देखते खाताधारकों की भीड़ उमड़ पड़ी।आक्रोशित खाताधारकों ने उक्त एजेंट को गोरौल थाने के हवालें किया। लगभग तीन दर्जन खाताधारियों के द्वारा बताया गया कि चार माह पुर्व ही मैच्युरीटी पुरने पर सबेरल बैक के मैनेजर से पुछे जाने पर बोला गया कि यह शाखा दो बर्ष पुर्व में सरकार द्वारा बंद करा दिया गया। उसके बाद भी पोझा निवासी हरदेयाल राम के पुत्र अबधेश राम  द्वारा दस रुपये से लेकर सौ रूपया तक की दैनिक खाता पर रूपया दर्ज कर रुपया की उगाही एजेंट अबधेश राम कर रहे थें । जिस खाते पर किसी कंपनी का नाम नहीं अंकित था। उक्त  बैंक के एजेंट अवधेश राम ने बताया कि लगभग 20-25 हजार खाताधारी हैं।बैंक की क्षेत्रीय कार्यालय किसी तकनीकी कारणों बंद हो गया।केवल उक्त बैंक प्रधान कार्यालय खुला है।सभी खाताधारियों का भुगतान बारी बारी से करने की बात कही ।उन खाताधारकों में शशीगिरि,अजय कुमार, अमन कुमार, ललन राम, सिंधु देवी, सुशीला देवी, मो जमसैद , सरीता देवी, जगरनाथ साह, सबनम कुमारी, गीता देवी, मनीका कुमारी, मो सागीर,  समेत दर्जनों समेत शामिल थे।

Post A Comment: