मोतीपुर से सुधीर कुमार की रिपोर्ट


 मोतीपुर ( मुजफ्फरपुर ): मोतीपुर पुलिस के साथ विगत तीन दिनों पूर्व बाथना गाँव के समीप अपराधियों की हुई मुठभेड़ मामले में गिरफतार चार अपराधियों को पुलिस ने मंगलवार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया. पुलिस में गिरफतार अपराधियों के पास से तीन देशी कट्टा, तीन जिंदा कारतूस, मोबाइल फ़ोन और बाइक को भी जप्त किया है. इन लोगों ने मोतिहारी, मुज़फ़्फ़रपुर जिला के कई थानों में आपराधिक वारदात को अंजाम देने में अपनी संलिप्तता स्वीकार किया है. कम उम्र के ये शातिर अपराधी कैसे चुटकियों में घटना को अंजाम देकर निकल जाते हैं इसके बारे में पुलिस को बताया है. थानाध्यक्ष कुमार अमिताभ के बयान पर उक्त मामले के मामला भी दर्ज किया गया है. जिन लोगों को न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया है उसमें बरुराज थाना क्षेत्र के सिसवां निवासी अहमद रेजा, कथैया थाना के नवलपुर मुशहरी निवासी विकास कुमार, कुड़िया निवासी अनिल कुमार सिंह और जसौली निवासी रत्नेश कुमार पांडेय शामिल हैं. इन सभी को न्यायिक हिरासत में जेल भेजे जाने के बाद पुलिस अब इनके बताए गए साथियों की गिरफतारी के अभियान में जुट गई है. पुलिस को विशुनपुरा के मनीष पाठक और पुलिस पर गोली चलानेवाले युवक की तलाश है. मामले के पुलिस ने इन दोनों कप भी आरोपी बनाया है.थानाध्यक्ष कुमार अमिताभ ने बताया कि जेल भेजे गए अपराधियों में चकिया में दो, मेहसी में तीन, केसरिया थाना क्षेत्र में एक और बरुराज में हुए दो लूट कांडों में अपनी संलिप्तता स्वीकार किया है. पुलिस के अनुसार कम उम्र के ये शातिर अपराध की घटना को चुटकियों में अंजाम देने में माहिर है. इनकी गिरफतारी के मोतिहारी और मुज़फ़्फ़रपुर पुलिस ने राहत की सांस ली है. जानकारी हो कि 28 दिसम्बर को वाहन चेकिंग के दौरान मोतीपुर के बाथना में पुलिस और बाइक सवार अपराधियों के बीच मुठभेड़ हुई थी. तब पुलिस ने एक को गिरफतार कर लिया था जबकि दूसरा पुलिस पर गोली चलाते भागने में कामयाब रहा था.

Post A Comment: