आमजनों को अनपढ़ और बेरोजगार बनाने वाले अज्ञानी  की भरमार है : वकिल प्रमोद कुमार

जिला रिपोर्टर धर्मपाल पटेल
        पी न्यूज वैशाली

वैशाली:-कभी सम्पूर्ण विश्व को ज्ञान देने वाला. भारत,बाल्मीकि,बुद्ध ,महावीर, आर्यभट्ट ,कालिदास,गाँधी, अम्बेडकर,मुंशी प्रेमचंद,कलाम का भारत, ज्ञानी ऋषियों मुनियों, मनिषियों का भारत आज भ्र्ष्टाचार के कारण अशिक्षा, मूढ़ता, अंधविश्वास की भेंट चढ़ चुका है

आमजनों को अनपढ़ और बेरोजगार बनाने वाले अज्ञानी व अयोग्य गुरुओं की भरमार है।

ऐसा नहीं है कि प्रतिभाशाली व योग्य शिक्षकों की कमी है बल्कि पूरी की पूरी शिक्षा व्यवस्था ही भ्र्ष्टाचार, राजनीतिक दखलंदाजी, लालफीताशाही, अफसरशाही, घूसखोरी में स्वाहा हो चुकी है।

सर्व शिक्षा अभियान सिर्फ रजिस्टर में धूल फाँक रहा है।बच्चे जाएं तो कहाँ जाएं।उचित शिक्षा के बिना व्यक्तित्व अधूरा होता है।अनपढ़ लोगों को दिग्भ्रमित करना धूर्त राजनेताओं के लिए बाएं हाथ का खेल है।

विश्वविद्यालयों का काम सर्टिफिकेट बाँटना है।परीक्षा में सभी चोरी से पास हो जाते हैं ।
शिक्षा लोकतंत्र की ताकत है।तालीम सही गलत पहचानने का सामर्थ्य प्रदान करती है।

समय आ गया है कि पूरे भारतवर्ष में शिक्षा के क्षेत्र में क्रांति की आवश्यकता है।
शिक्षित भारत, समर्थ भारत के नारे की आवश्यकता है।।

Post A Comment: