हल्की बारिश से ही मार्ग बने तालाब

शोभित कुमार श्रीवास्तव
                   ब्यूरो चीफ
            लखीमपुर-खीरी
लखीमपुर-खीरी:-तीन वर्ष पूर्व प्रशासन ने सूरत नगर के साढे तीन सौ परिवारों को जमीन मुहैया कराकर बसा तो दिया था। गांव के सभी मार्ग कच्चे होने के कारण हल्की सी बारिश में गांव में बाढ़ जैसे हालात बन जाते हैं।यह मामला तीन वर्ष पूर्व सूरत नगर के कटान पीड़ितों को बसाकर बनाए गए नया पुरवा गांव में हल्की बारिश से बाढ़ जैसे हालात उत्पन्न हो गए हैं। गांव के सभी कच्चे मार्ग तालाब में तब्दील हो जाने से कटान पीड़ितों को भारी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। एक तरफ अपना सब कुछ मोहाना नदी की भेंट जाना वहीं दूसरी तरफ प्रशासन की उपेक्षा भरी निगाहें सूरत नगर के कटान पीड़ितों के लिए मुसीबत की वजह बनी हुई है।
गांव के सभी मार्गों का निर्माण करने को भी कहा गया था। हल्की सी बारिश में गांव में बाढ़ जैसे हालात बन जाते हैं। रात हुई हल्की बारिश ने गांव में बाढ़ जैसे हालात उत्पन्न कर दिए हैं। गांव के सभी कच्चे मार्ग में दो से तीन फीट पानी भरने से लोगों का घरों से निकलना मुश्किल बना हुआ है। जिससे ग्रामवासियों में प्रशासन के प्रति भारी रोष भी बना हुआ है।

Post A Comment: