P News नालंदा – रामनवमी जुलूस में नहीं होगा अस्त्र-शस्त्र का प्रदर्शन ,डीजे बजाने पर रहेगा पूर्णतः प्रतिबंध – डीएम

रामनवमी के पर्व को शांतिपूर्ण एवं सद्भावपूर्ण वातावरण में संपन्न कराने को लेकर विधि व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिला प्रशासन के स्तर से मुकम्मल व्यवस्था की गई है। इसके पूर्व जिला स्तर से लेकर थाना स्तर तक पूर्व में ही शांति समिति की बैठक आहूत की गई है। शांति समिति के सदस्यों के समन्वय से सौहार्दपूर्ण वातावरण में आयोजन को लेकर प्रशासनिक तैयारी की गई है।
                  बिहारशरीफ अनुमंडल के 51, हिलसा अनुमंडल के 48 तथा राजगीर अनुमंडल के 55 महत्वपूर्ण स्थलों पर दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई है। जिला को 3 प्रक्षेत्र में बांटकर वरीय पदाधिकारियों को विधि व्यवस्था के संधारण हेतु दायित्व दिया गया है। बिहारशरीफ अनुमंडल क्षेत्र के लिए उप विकास आयुक्त, राजगीर अनुमंडल क्षेत्र के लिए अपर समाहर्ता तथा हिलसा अनुमंडल क्षेत्र के लिए निदेशक डीआरडीए को वरीय प्रभारी के रूप में दायित्व दिया गया है।
                               बिहार शरीफ नगर निगम क्षेत्र में अलग अलग क्षेत्रों में गश्ती के लिए 6 गश्ती दल दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी प्रतिनियुक्त रहेंगे जो लगातार भ्रमणशील रह कर विधि व्यवस्था पर नजर बनाए रखेंगे। साथ ही नगर निगम क्षेत्र को 2 जोन में बांटते हुए जोनल दंडाधिकारी के रूप में नगर आयुक्त एवं उप विकास आयुक्त को संबद्ध पुलिस पदाधिकारी के साथ दायित्व दिया गया है।
                             जिला स्तरीय नियंत्रण कक्ष 06112- 235288 पर कार्यरत रहेगा। साथ ही लहेरी थाना एवं राजगीर तथा हिलसा अनुमंडल में भी नियंत्रण कक्ष कार्यरत रहेगा। नियंत्रण कक्ष में अलग से दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी को प्रतिनियुक्त किया गया है। गुरुवार को सभी प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी की संयुक्त ब्रीफिंग जिला पदाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक द्वारा टाउन हॉल में की गई।
                           इस अवसर पर जिला पदाधिकारी ने सभी प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी को समय से अपने कर्तव्य स्थल पर उपस्थित रहने तथा स्थानीय लोगों से सम्पर्क स्थापित रखते हुए सूचना संकलन का निर्देश दिया।जिला पदाधिकारी ने तुलसीदास की पंक्तियों-  “निर्मल मन जन सो मोहि पावा, मोहि कपट छल छिद्र न भावा” को उद्धृत करते हुए कहा कि लोग निर्मल एवं पवित्र भाव से त्योहारों को मनाएं। रामनवमी के जुलूस में भी श्रद्धालु निर्मल एवं पवित्र भाव से शामिल हों।
                            उन्होंने सिविल सर्जन को आकस्मिक स्थिति के लिए चिकित्सकों की मुकम्मल व्यवस्था सुनिश्चित करने का निदेश दिया।अफवाहों को लेकर विशेष रूप से सतर्क एवं सजग रहने का निर्देश सभी दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी को दिया गया। छोटी से छोटी सूचना को भी संवेदनशीलता के साथ संज्ञान में लेने का निर्देश दिया गया। किसी भी परिस्थिति में किसी भी सूचना को नजरअंदाज नहीं करने को कहा गया। अफवाह फैलाने वालों की तुरंत पहचान कर उनके विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई सुनिश्चित करने को कहा गया। उन्होंने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी एवं थाना प्रभारी को लगातार अपने क्षेत्र में भ्रमणशील रहते हुए विधि व्यवस्था का संधारण सुनिश्चित करने को कहा।
 पुलिस अधीक्षक ने अपने संबोधन में कहा कि जुलूस को एस्कॉर्ट करने वाले तथा  स्टैटिक दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी इसके विसर्जित होने तक साथ में बने रहेंगे। संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी से अनुमति प्राप्त कर ही कर्तव्य स्थल से प्रस्थान करेंगे।जुलूस में किसी भी प्रकार का अस्त्र-शस्त्र का प्रदर्शन पूर्णता वर्जित रहेगा। डीजे संचालन पर भी पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। आपत्तिजनक नारेबाजी या गीत संगीत बजाने वालों के विरुद्ध त्वरित एवं कठोर कार्रवाई की जाएगी।जुलूस को निर्धारित समय से प्रारंभ कर अपने गंतव्य की ओर प्रस्थान कराने का निदेश सभी दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी को दिया गया।
                    ब्रीफिंग में पुलिस अधीक्षक, नगर आयुक्त,अपर समाहर्ता, उप विकास आयुक्त, सभी अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी आदि उपस्थित थे।

Post A Comment: