मुख्य संपादक कृष्ण कुमार संजय
समस्तीपुर जिले के सिंघीया थाना  क्षेत्र के माहें में गौरी देवी सरपंच के पति अरुण सिंह एवं पुत्र मानस सिंह पर गोली चलाने वाले अपराधी को कुछ ही घंटों में गिरफ्तार किया गया है   बताया गया कि    माहें गांव में सरपंच पति अरुण कुमार सिंह को अहले सुबह  खेत से लौटने के क्रम में घर के समीप पहुंचते ही घात लगाए अपराधियों ने अंधाधुंध फायरिंग कर हत्या कर दिया था   गोली की आवाज सुनकर पिता का बचाव करने गये उनके पुत्र मानस कुमार को गोली मारकर जख्मी कर दिया था । जहां इलाज के दौरान  डॉक्टरों ने डीएमसीएच रेफर कर दिया ।घटना के तुरंत बाद से अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अरुण कुमार दुबे ने रोसड़ा थानाध्यक्ष, विभूतिपुर थानाध्यक्ष, खानपुर थानाध्यक्ष, समेत कई थाना के पुलिसकर्मी की टीम गठित कर  लोकेशन के आधार पर विभिन्न जगहों पर लगातार छापेमारी करते रहे। आखिर घटना के कुछ घंटो बाद ही पुलिस ने चार आरोपी विक्रम सिंह ,बिनय सिंह,गणेश सिंह एवं सौरभ सिंह को  गिरफ्तारी कर लिया है।इस मामले की जानकारी  अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी रोसड़ा के अरुण कुमार दुबे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दरमियान दिए है। मृतक के बड़े पुत्र  आलोक कुमार सिंह के द्वारा गाँव के ही सात अभियुक्तों को आरोपित किया गया है जिसमें  गाँव के ही राम नंदन सिंह के पुत्र विक्रम सिंह, विनय सिंह, दीपक कुमार सिंह के पुत्र सौरभ कुमार सिंह एवं स्वर्गीय शंभू  सिंह के पुत्र गणेश कुमार समेत 7लोग शामिल है। रोसड़ा अनुमंडल पुलिस ने टीम गठित कर कुछ घंटों में ही घटना में संलिप्त चार आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है । हत्यारोपीयों  ने घटना में अपनी संलिप्ता  स्वीकार  की हैं।  जिसमें प्रेस वार्ता कर  एसडीपीओ  अरुण कुमार दुबे ने  जानकारी देते हुए कहा कि पूर्व से जमीनी विवाद एवं कुछ छोटी-मोटी बातों को लेकर विवाद चलता था। इसी मामलों को लेकर घटना का अंजाम दिया हैं। एवं अन्य आरोपी की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी चल रही है




Post A Comment: