चंद्रशेखर महाजन मध्यप्रदेश

मध्यप्रदेश में ग्राम रोजगार सहायकों  की हड़ताल के चलते खण्डवा जिले में भी हड़ताल के  6वे दिन भी जताया विरोध,23 को भोपाल मे हौगा उग्र प्रदर्शन

पंधाना मध्यप्रदेश सरकार की वादा खिलाफी एवं वचन पत्र की अनदेखी से नाराज ग्राम रोजगार सहायक विगत 6 दिनो से म.प्र. में धरने पर बैठे हुए है। लेकीन सरकार के जिम्मेदार मूकदर्शक बन बैठे है। जिससे लोगो को ग्राम पंचायतो में रोजगार देने वाले रोजगार सहायक आज अपने भविष्य के रोजगार को लेकर चिंतित है।
मध्यप्रदेश सरकार ने अपने वचन पत्र में ग्राम रोजगार सहायको को नियीमत करने का वचन दिया था साथ ही 15 सितम्बर को म.प्र. सरकार के केबिनेट मंत्रीयो ने ग्राम रोजगार सहायको के सम्ममेलन में 15 अक्टुबर तक नियीमत करने का वादा किया था। लेकीन सरकार के जिम्मेदार लोगो ने ध्यान नही दिया जिससे मजबुर होकर सोमवार को ग्राम रोजगार सहायको नें पंधाना मे -ऋषिमुनियो की भांति तपस्या एक पाव पर खड़े होकर व हाथ जोड़कर कमलनाथ जी को प्रशन्न करने के लिए कि तपस्या की गई। GRS का कहना है की जिस प्रकार ऋषि मुनि तपस्या करके भोलेनाथ को प्रशन्न करते है वैसे हम भी कमलनाथ जी को प्रशन्न करने का प्रयास कर रहे है

म.प्र. ग्राम रोजगार सहायक संगठन के पंधाना ब्लाक अध्यक्ष शैलेन्द्र सिंह तोमर ने बताया कि ग्राम रोजगार सहायक ग्राम पंचायतो में सभी कार्य आनलाईन एवं आफलाइन करता है साथ ही शासन द्वारा जो भी जिम्मेदारी दी जाती है वह बखुबी से निभाता है। लेकीन बदले मे सरकार मात्र 9000/- रू. महिना अल्प वेतनमान देती है जिससे परिवार को पालना मुश्किल है। सरकार खुद आंदोलन के लिये ग्राम रोजगार सहायको को उकसा रही है। 23 अक्टूबर बुघवार को भोपाल में प्रदेश के 23 हजार ग्राम रोजगार सहायक सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेगे।
श्री तोमर ने बताया की पंचायतो में सबसे अधिक काम करने वाले ग्राम रोजगार सहायको की हडताल से शासन की कई योजनाए ठप्प हो रही है। आम आदमी परेशान हो रहे है। हितग्राही काम के समय में पंचायतो के चक्कर लगा रही है। लेकीन शासन के जिम्मेदार लापरवाही बने हुए है। वचन पत्र और वादा खिलाफी को लेकर आज जनता में भी शासन के प्रति रोश देखा जा रहा है l

Post A Comment: