चंद्रशेखर महाजन मध्यप्रदेश

मध्यप्रदेश में चल रही रोजगार सहायकों की हड़ताल खण्डवा जिले की सभी जनपदों खण्डवा पंधाना हरसूद खालवा पुनासा ब्लाक की ग्राम पंचायतों  में कार्यरत सहायक सचिव सरकार की वादा खिलाफी से नाराज होकर प्रदेश संगठन के साथ हडताल पर चले गए। गौरतलब है कि विगत लम्बे समय से सहायक सचिव अपनी मांगो को लेकर सरकार के समक्ष अपना पक्ष रख रहे है, किन्तु शासन ने सिर्फ हर बार आश्वासन देकर सहायक सचिवो की एक मांग भी पूरी नही की जिससे आहत होकर सहायक सचिव दिनांक 16/10/2019 से हडताल पर चले गए।

ओर हड़ताल निरंतर चलती रहेगी

*इस आशय की जानकारी देते हुए मध्यप्रदेश पंचायत सहायक सचिव संगठन केजिला अध्यक्ष भूपेंद्रसिंह सोलंकी खण्डवा ब्लाक अध्यक्ष नामदेव पटेल पंधाना ब्लाक अध्यक्ष शैलेन्द्र सिंह तोमर ने बताया कि ग्राम पंचायत मे ग्राम रोजगार सहायक (सहायक सचिव) शासन की महत्वाकांक्षी योजना मनरेगा सहित ग्राम पंचायत स्तर की समस्त योजनाओं को धरातल पर क्रियान्वित होने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे है। सरकार ग्राम पंचायत के ग्राम रोजगार सहायको को कोल्हु का बैल बनाकर काम करवा रही है, कोई सा भी कार्य हो जो ग्राम पंचायत में होना है चाहे वह किसी भी विभाग का हो उसे सहायक सचिव पर थोप दिया जाता है, और सहायक सचिव उस कार्य को शासन का आदेश मानकर हर संभव कार्य पूर्ण करवाने में लग जाता है और ग्रामीण क्षैत्रो के इस कार्य को धरातल पर पूर्ण करवाता है, किंतु जब सहायक सचिवो के हितो की बात आती है तब शासन अपना मुह हर बार मोड लेता है, विगत कई समय से अपने वचन पत्र में उल्लेख होने के बाद भी और माननीय मुख्यमंत्री कमलनाथ जी द्वारा भोपाल के लाल परेड ग्राउड पर 15 अगस्त को सार्वजनिक घोषणा के पश्चात भी आज दिनांक तक शासन द्वारा एक भी आदेश सहायक सचिवो के पक्ष मे जारी नही किया गया। पिछले कई समय से ग्राम रोजगार सहायक शासन के आश्वासन पर सरकार के खिलाफ नही गए किंतु शासन ने अपने तंत्र की अंतिम पंक्ति मे बैठे इस कर्मचारी को दरकिनार कर रखा है। अतः अपने अधिकार और हक की लडाई के लिए जिले के सभी सहायक सचिव 16/10/2019 से 22/10/2019 तक जनपद पंचायत पंधाना में धरने पर कलमबंद हडताल कर धरने पर बैठे है। तथा 23/10/2019 को भोपाल में शक्ति प्रदर्शन करेगे।
रोजगार सहायकों के हड़ताल पर जाने से पंचायतो के काम ठप्प ग्रामीण हो रहे परेशान।
उल्लेखनीय हैकि कुछ पंचायतो के सचिव पद का चार्ज भी रोजगार सहायक ही सम्हाले हुए है।

Post A Comment: