बेब जर्नलिस्ट्स एसोसियेशन ऑफ इंडिया के कार्यकारणी बैठक
में संगरक्षक रजनीकांत पाठक ने कहां कि जिस तरह केंद्र व राज्य की सरकार टीवी मीडिया व प्रिंट मीडिया पर सरकारी कार्यक्रम के प्रचार प्रसार पर खर्च करती है उसी तरह बेब मीडिया पर भी तमाम सुविधा व बजट दे।पाठक ने कहां कि असंख्य बेब पत्रकार आज बिना सामाजिक सुरक्षा व सुविधा के काम कर रहे हैं।गाँव से लेकर शहर तक का न्यूज़ 24 घँटे मिलते रहता है।सरकार नई नीति बनाकर बेब जर्नलिज्म में लगे पत्रकार को वो तमाम सुविधा दे जो टीवी या प्रिंट मीडिया को दे रही है।डिजिटल पत्रकारिता इस समय जिस तरीके से पूरे देश में दायरा बढ़ रहा है उसको लेकर आज (Wjai) web journalists association of India का गठन किया गया इस प्लेटफार्म से जितने भी राज्य में web जनरलिस्ट उनको एक अपनी बात रखने का जगह मिल जाएगा जिसके अध्यक्ष आनंद कौशल है इसमें भाग लेने के लिए सीनियर जनरलिस्ट श्रीकांत प्रत्यूष तमाम बड़े पत्रकार मौजूद रहे इस संगठन बनाने का उद्देश्य जैसे समाचार पत्रों खोजो अधिकार मिला है वैसे ही केंद्र सरकार द्वारा web जनरलिस्ट को मिले संगठन का उद्देश्य है केंद्र सरकार और राज्य सरकार से मिलकर अपने अधिकारों का संरक्षण मिल सके

Post A Comment: