गढ़वा, जासं। गढ़वा जिले के रमना थाना क्षेत्र के बहियार खुर्द गांव में चंचला देवी (21) की गला दबाकर हत्या कर दी गई है। घटना शनिवार शाम की बताई जा रही है। रविवार को शव का सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम किया गया। जानकारी के अनुसार चंचला देवी की शादी वर्ष 2017 में अयोध्या पासवान के पुत्र अनुज पासवान के साथ हुई थी। घटना के संबंध में धुरकी थाना क्षेत्र के सोनडीहा गांव निवासी मृतका के पिता अरुण राम ने बताया कि उसकी पुत्री को दहेज के लिए लगातार प्रताडि़त किया जा रहा था।

इसे लेकर कई बार पंचायत भी हुई थी। विगत दो माह पूर्व चंचला को परेशान करने की नीयत से घर में लगे हैंडपंप का हैंडल खोल दिया गया था। साथ ही शौचालय में ताला लगा दिया गया था। अरुण राम ने बताया कि चंचला देवी के सास, ससुर, गोतनी व पति उसे अक्सर प्रताडि़त करते थे। उसने बताया कि चंचला देवी छठ महापर्व का व्रत रखी थी। शनिवार को उसने प्रसाद भी बना लिया था। छठ व्रत में चंचला का छोटा भाई शिव शंकर पासवान बहन के घर गया था।

दोपहर में उसे फलाहारी लाने के लिए रमना बाजार भेज दिया गया। इसके बाद मृतका के ससुराल वालों ने चंचला की गला दबाकर हत्या कर दी। जबकि मृतका के ससुर अयोध्या पासवान का कहना है कि वह तथा उसकी पत्नी पुराने घर से कुछ दूर अलग झोपड़ी में रहते हैं। अनुज पासवान व चंचला देवी के बीच किस बात को लेकर विवाद हुआ, उसे जानकारी नहीं है।

मृतका के मायके वालों ने मृतका के पति अनुज पासवान, ससुर अयोध्या पासवान, सास कमला देवी, गोतनी रानी देवी पति मनोज पासवान तथा पति के चचेरे नाना त्रिवेणी पासवान के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई है। प्राथमिकी के आलोक में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मृतका के पति अनुज पासवान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

Post A Comment: