गोरखपुर ब्यूरों। संयुक्त स्वास्थ आउटसोर्सिंग कर्मचारी संघ प्रदेश कार्यवाहक महामंत्री बासुकीनाथ  तिवारी के नेतृत्व में आउटसोर्सिंग कर्मचारियों ने अपनी जायज मांगों को लेकर जगह-जगह भिक्षाटन करते हुए जिलाधिकारी कार्यालय पर भिक्षाटन कर डिप्टी कलेक्टर राजेंद्र बहादुर को ज्ञापन सौंपकर मांग किया कि प्रदेश सरकार की गलत नीतियों के कारण पूरे प्रदेश में 5000 से ज्यादा कर्मचारी नौकरी से निकाल दिए गए जिसके फलस्वरूप कर्मचारियों के परिवार पर भुखमरी के बादल मंडराने लगे हैं। कर्मचारियों के परिवार, बच्चों के पालन-पोषण, दवा आदि सुचारू रूप से नहीं हो पायेगा। बासुकीनाथ  ने कहा कि निकाले गये कर्मचारियों को जबतक एनएचएम में समायोजित नहीं कर दिया जाता  तब तक हम सभी कर्मचारी अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन करते रहेंगे और इसके बाद भी अगर सरकार हम कर्मचारियों की बातों को नजर अंदाज करती है तो हम सभी कर्मचारी मरने को मजबूर हो जाएंगे जिसकी पूरी जिम्मेदारी सरकार की होगी।

Post A Comment: