गोरखपुर। अयोध्या पर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लोगों ने बड़े ध्यान और सम्मान से सुना। इस बीच सड़कों पर कड़ी सुरक्षा के साथ लोग अपनी सामान्य दिनचर्या में व्यस्त भी नज़र आए। गोरखनाथ मंदिर, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन सहित शहर के तमाम महत्वपूर्ण स्थानों पर रात से ही सुरक्षा के कड़े इंतजाम कर दिए गए थे। सुबह से लोगों की आवाजाही पर नज़र रखते हुए पुलिस काफी सतर्क नज़र आई। गोरखनाथ मंदिर में मुख्य द्वार और अन्य गेटों पर पुलिस का कड़ा पहरा नज़र आया। मंदिर के कार्यालय के सामने शनिवार को एकादशी की पूजा और आंवले के पेड़ के नीचे बैठकर भोजन करने की परम्परा भी निभाई गई।मालुम हो कि मंदिर और गोरक्षपीठ का अयोध्या मुद्दे से गहरा सम्बन्ध रहा है। शनिवार को यहां कार्यालय में मंदिर प्रबंधन से जुड़े तमाम कर्मचारी सुबह से ही टीवी पर फैसले को देखते रहे। फैसला आने के बाद कर्मचारियों और वहां मौजूद लोगों की प्रतिक्रिया बेहद सामान्य रही।  सभी ने फैसले का स्वागत किया। वैसे पिछले कई दिनों से शहर के विभिन्न इलाकों में हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई धर्मगुरुओं की ओर से अयोध्या पर आने वाले सुप्रीम कोर्ट के किसी भी फैसले को खुशी से स्वीकार करने की अपीलें की जा रही थीं। शनिवार की सुबह से इन अपीलों का असर लोगों की बातचीत में देखने को मिल रहा था। लोग अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को सराहते हुए दिख रहे थे । सबसे बड़ी बात यह है कि सभी वर्गों के लोगों ने इस फैसले को तहें दिल से स्वीकार किया।

Post A Comment: