विनय कुमार मिश्र, गोरखपुर ब्यूरों। एनएसयूआई गोरखपुर के पूर्व जिला अध्यक्ष मनीष ओझा ने एक विज्ञप्ति जारी कर कहा कि मेरे टि्वटर अकाउंट के साथ धोखाधड़ी की गई है।मेरे पास 2 नवंबर 2019 को शाम 6:33 पर एक फोन आता है जिसमें अकाउंट वेरीफाई की बात कही जाती है उसके बाद फोन काटते ही मेरे टि्वटर अकाउंट को हैकर ने हैक कर के मेरी ईमेल आईडी व मोबाइल नंबर को बदलकर अपनी मेल आईडी व मोबाइल नंबर डाल दिया है जिससे मेरा पूरा टि्वटर हैंडल हैकर के हाथों में चला गया है अकाउंट हैक होने की सूचना मैंने गोरखपुर एसएसपी, जिलाधिकारी, सीओ कैंट एवं थानाध्यक्ष कैंट गोरखपुर को दी है लेकिन अब तक कोई भी कार्यवाही नहीं की गई जो कहीं ना कहीं कार्यपालिका पर एक प्रश्नवाचक? चिन्ह लगाता है साथ ही साथ मनीष ओझा ने कहा कि उत्तर प्रदेश एवं केंद्र सरकार की कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो गई है इनकी लगाम पुलिस प्रशासन पर नहीं है और पुलिस प्रशासन की लगाम अपराधियों पर नहीं है चाहे वह अपराध हत्या, लूट या फिर साइबर क्राइम का ही क्यों ना हो। कहीं न कहीं इन हैकरों का हौसला सत्ता पक्ष के सह पर बढ़ गया है जब हम सभी के साथ इस तरह की घटना घट रही है तब फिर एक आम आदमी कैसे सुरक्षित रहेगा।

Post A Comment: