तेज रफ्तार ट्रक के चपेट में आने से छात्रा की मौत

समस्तीपुर से एम नईमुद्दीन आज़ाद की रिपोर्ट !

समस्तीपुर : जिले के वारिसनगर थाना अंतर्गत मथुरापुर ओपी क्षेत्र के झिल्ली चौक के पास अनियंत्रित ट्रक ने एक छात्रा को रौंद डाला, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गई, स्थानीय लोगों की मदद से उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया, परन्तु वहाँ के डॉक्टर ने बहाना बनाते हए कहा कि यहां ईलाज के लिए उचित व्यवस्था नही है। इतना कहकर जख्मी छात्रा को ईलाज के लिए पीएमसीएच पटना भेज दिया। जख्मी छात्रा को पटना ले ही जाया जा रहा था कि छात्रा ने रास्ते मे दम तोड़ दिया,अगर समस्तीपुर सदर अस्पताल में छात्रा का कुछ भी उपचार हुआ होता तो शायद छात्रा की जान बच सकती थी। मृतिका छात्रा की पहचान कल्याणपुर थाना क्षेत्र के जुट मिल रोड स्थित भगीरथपुर निवासी मोहम्मद यूसुफ की 17 वर्षीय पुत्री जैनब खातून के तौर पर की गई है। मिली जानकारी के अनुसार जैनब खातून रोज की तरह आज भी अहले सुबह साइकिल से कोचिंग करने हेतु शहर की ओर जा रही थी इसी क्रम में दिल्ली चौक के पास एक तेज रफ्तार ट्रक ने छात्रा को कुचल दिया जिससे उसकी मौत हो गई। इस घटना को लेकर आक्रोशित लोगों ने समस्तीपुर दरभंगा मुख्य सड़क को जाम कर दिया। जाम के कारण, सड़क के दोनों ओर गाड़ियों की लंबी कतार लग गई जाम लगने से यात्रियों को बेहद परेशानियो का सामना करना पड़ा। ईधर इस घटना को लेकर स्थानीय लोग समस्तीपुर दरभंगा मुख्य सड़क जाम कर उचित मुआवजे के अलावा,मृतक के परिजन को 10 लाख रुपया मुआवजा,एक को सरकारी नौकरी के साथ साथ उक्त स्थान पर ब्रेकर और मथुरापुर घाट से बाजार समिति तक डिवाईडर बनाने की मांग कर रहे थे। जाम लगने की सूचना पर सदर अनुमंडल पदाधिकारी अशोक कुमार मण्डल, सदर डीएसपी प्रीतिश कुमार,टाउन थाना अध्यक्ष सीता राम प्रसाद सिंह के अलावा मथुरापुर ओपी थाना अध्यक्ष संजय कुमार सिंह अपने टीम के साथ पहुँच कर आक्रोशित लोगों समझाने के प्रयास किया परन्तु सभी लोग अपनी मांगों को लेकर डटे हुए थे। ईधर सदर अनुमंडल पदाधिकारी अशोक कुमार मण्डल ने आश्वाशन दिया कि आप लोगो की मांग जिलाधिकारी के समक्ष रखूंगा। एसडीओ के आश्वाशन और स्थानीय समाजसेवी ईमाम रिजवी,जदयू लीडर सन्तोष कुमार साह,नंद किशोर चौधरी व अन्य लोगों के पहल पर जाम समाप्त हुआ और यातायात बहाल हो सका। ईधर थाना अध्यक्ष ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल समस्तीपुर भेज दिया। बताया जाता है की मथुरापुर में थानेदार की मिली भगत से शहर में नो एंट्री रहने के बावजूद बड़ी गाड़ियों को जाने दिया जाता है। इतना ही नही सड़क के दोनों तरफ दुकानदारो अतिक्रमण कर रखा है, जिससे आये दिन कोई न कोई सड़क हादसे का शिकार हो रहा है। अब देखना है कि जिला प्रशासन इस ओर कबतक ध्यान देती है।

Post A Comment: