देश का संविधान खतरे में : पप्पू यादव

समस्तीपुर से एम नईमुद्दीन आज़ाद की रिपोर्ट

समस्तीपुर : एनआरसी,सीएए और एनपीआर के विरोध को लेकर संविधान बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले मुख्यालय स्थित सरकारी बस स्टैंड में शुक्रवार से शुरू अनिश्चितकालीन सत्याग्रह आंदोलन को समर्थन देने रविवार की शाम जन अधिकार पार्टी के सुप्रीमो सह पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने भाग लिया। उन्होंने कहा कि देश का संविधान खतरे में है। एनआरसी कानून देश को बांटने वाला है। सरकार को इसे हर हाल में वापस लेना होगा। उन्होंने कहा कि देश की आर्थिक स्थिति,मंहगाई,रोजगार,बेटियों की सुरक्षा और बच्चों की शिक्षा पर पीएम नही बोलते हैं। उन्होंने कहा कि देश को इस तरह की कानून की जरूरत नही थी,जरूरत थी पुलवामा की जांच की। इन सब मुद्दों को छोड़कर लगातार छः सालों से सिर्फ हिन्दू मुस्लिम को बांटने की कोशिश की जा रही है। भाजपा के सत्ता में आते ही देश मे अव्यवस्था का माहौल बन गया है। लोग जात पात के बारे में जानने लगे हैं। देश के लोग हर त्योहार एक दूसरे के साथ मिलकर मनाते थे जो भाजपा सरकार में लोग एक दूसरे से दूरी बनाने में लगे हैं। मोदी ने तीन तलाक बिल पास किया,लेकिन कोई मुस्लिम इसका विरोध नही किया। जबकि यह शरीयत के विरोध को छोड़ संविधान पर यकीन किया।
सत्याग्रह में विभिन्न राजनीतिक दलों एवं संगठनों में जैसे माले के प्रो0 उमेश कुमार, भाकपा के सुरेंद्र कुमार सिंह मुन्ना, माकपा  राजाश्रय महतो, रालोसपा के अनंत कुशवाहा, राजद के विनोद राय, कांग्रेस के मो0 अबू तमीम, वीआईपी के अभय सिंह ने संदेश भेजकर, हम पार्टी समेत अन्य कई दलों एवं संगठनों के जिला सचिव एवं अध्यक्ष सत्याग्रह आंदोलन में आकर सत्याग्रही को संबोधित किया एवं तन मन धन से सत्याग्रह को सहयोग देने का वादा किया। मौके पर अधिवक्ता अंजारूलहक सहारा सत्यनारायण सिंह,प्रो0 शील कुमार राय, फैजुर रहमान फैज,बेलाल राजा,अजय बुलगानी,रंजीत कुमार, मो0 फरमान, सुनील कुमार, प्रो0 उमेश कुमार, रधुनाथ राय, रजिऊल ईस्लाम, अकबर अली,खालीद अनवर, पप्पू खान, शम्स तबरेज, मो0 हसनैन, मो0 अनवर आलम, मो0 तौकीर, मसूद जावेद, मो0 सगीर आदि ने सभा को संबोधित किया।

Post A Comment: